रानी दुर्गावती बलिदान दिवस

Swipe Left to read all रानी दुर्गावती बलिदान दिवस Articles

रानी दुर्गावती बलिदान दिवस

आज रानी दुर्गावती Rani Durgavati का बलिदान दिवस है। रानी दुर्गावती का नाम भारत के इतिहास में जाना-माना नाम है, जिन्होंने अपनी मातृभूमि के लिए अपने प्राणों की आहुति दे दी। वे कालिंजर के राजा कीर्तिसिंह चंदेल की इकलौती संतान थीं। जानिए यहां उनके पराक्रम के बारे में... - Great Hindu Warrior Queen id="ram"> हमें फॉलो करें 24 June को रानी दुर्गावती Rani Durgavati का बलिदान दिवस है। रानी

Read All Article Posted By : India Known

रानी दुर्गावती : भारतीय इतिहास की वीरांगना के बारे में 10 बातें जानकर चौंक जाएंगे

भारत की महानतम वीरांगना रानी दुर्गावती का जन्म 5 अक्टूबर 1524 में हुआ था, जिन्होंने अपनी मातृभूमि और आत्मसम्मान की रक्षा हेतु अपने प्राणों का बलिदान दिया। id="ram"> Rani Durgavati 1. भारत की महानतम वीरांगना रानी दुर्गावती का जन्म 5 अक्टूबर 1524 में हुआ

Read Full Article Posted By : India Known

रानी दुर्गावती बलिदान दिवस : कौन थीं रानी दुर्गावती, जानिए उनके जीवन की 10 बड़ी बातें

रानी दुर्गावती भारत की एक प्रसिद्ध वीरांगना थीं, जिसने मध्यप्रदेश में शासन किया। दुर्गावती का जन्म 5 अक्टूबर 1524 में हुआ था। उनका राज्य गोंडवाना में था। id="ram"> Rani Durgavati जन्म- 5 अक्टूबर 1524 googletag.cmd.push(function() { googletag.display('WD_HI_ROS_Left_336x280'); if (typeof(pubwise) != 'undefined' &&

Read Full Article Posted By : India Known

गुप्त नवरात्र में कैसे करें देवी आराधना,नवदुर्गा की पूजा या 10 महाविद्याओं की साधना

गुप्त नवरात्र को लेकर श्रद्धालुओं के मन में कुछ संशय बना रहता है क्योंकि कुछ विद्वानों का मत है कि गुप्त नवरात्र में केवल दस महाविद्याओं की ही साधना की जाती है नौ देवियों की नहीं, हमारे मतानुसार यह मत उचित नहीं है क्योंकि नवरात्रि का पर्व देवी आराधना से सम्बन्धित पर्व है जिसमें दस महाविद्याओं की साधना के साथ ही जो श्रद्धालु नवदुर्गा की साधना करना चाहते हैं वे नौ दिनों के अनुसार देवी आराधना कर सकते हैं। - gupt navratri id="ram"> पं. हेमन्त रिछारिया| हमें फॉलो करें हमारे सनातन धर्म में नवरात्रि का पर्व

Read Full Article Posted By : India Known

कर्नाटक में फिर महसूस हुए भूकंप के हल्के झटके, लोग आए दहशत में

मंगलुरु (कर्नाटक)। दक्षिण कन्नड़ जिले के सुलिया तालुक में शुक्रवार को कुछ स्थानों पर सप्ताह में तीसरे दिन भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी। - Light tremors of earthquake felt again in Karnataka id="ram"> Last Updated: शुक्रवार, 1 जुलाई 2022 (12:24 IST) हमें फॉलो करें मंगलुरु (कर्नाटक)। दक्षिण

Read Full Article Posted By : India Known