Home / Kids Poems
Category: Kids Poems

मजेदार हिन्दी कविता : बदनाम भैया

मच्छर और मक्खी पर पढ़ें छोटी फनी बाल कविता- एक पुस्तक पर...

Read more

फनी बाल कविता : पेड़ नीम का

Poem on Neem Tree पेड़ नीम का घर के बाहर छाता बनकर, खड़ा हुआ है एक हकीम...

Read more

पितृ दिवस पर कविता : पापा जल्दी आ जाना, घंटों गप्पे लड़ाएंगे

मैं तुमसे बातें करने, मोबाइल रोज मिलाता हूं, टन-टन घंटी...

Read more

फादर्स डे कविता : पिता बिन जीवन नरक समान

पिता-सा न कोई जग में महान, पिता से मिलता हमें सच्चा प्यार।...

Read more

पिता पर कविता : संडे जल्दी से आ जाओ, पापा से पूरे दिन मिलाओ

मैं मम्मा से पूछता हूं, पापा कब मेरे संग खेलेंगे, मम्मा...

Read more

फादर्स डे पर कविता : सागर-सा पिता

आसान नहीं है बनना सागर, सागर बनने के लिए चाहिए, विशालता,...

Read more

Yoga Day Poem : विश्व योग दिवस पर हिन्दी कविता

21 June 2022, Yoga Day हर साल 21 जून को अंतरराष्ट्रीय या विश्व योग दिवस...

Read more

भाई दिवस पर मजेदार कविता: चल मेरे भाई...

ब्रदर्स डे पर कविता- चल मेरे भाई, मेरे साथ, तुझको खिलाऊं...

Read more

मजेदार बाल कविता: धुक्कम-पुक्कम रेल

रेल चली भई रेल चली, धुक्कम-पुक्कम रेल चली। टीना, मीना,...

Read more

फनी बाल कविता : जूतों की व्यथा

जूते बैठे दरवाजे पर, झांक रहे बैठक खाने में। कहते हैं...

Read more

हिन्दी कविता : डाली से मुझको मत तोड़ो

डाली से मुझको मत तोड़ो, फूल कर रहा नम्र निवेदन, डाली से...

Read more

बाल गीत : पेड़ को है बंदगी

पेड़ ने जीवन दिया है, पेड़ ने दी जिंदगी। पेड़ को शत-शत नमन...

Read more

बाल कविता: मच्छर मक्खी बड़े तबलची

टोप नहीं साहब के सिर पर, सिर नंगा है साहब का। नंगा सिर देखा...

Read more

फनी बाल कविता: जलेबी

Poem on Jalebi करना नहीं बहाना बापू। आज जलेबी लाना बापू।। रोज...

Read more

गर्मी के दिनों पर फनी कविता: सजे अखाड़े गरमी के...

Poem on Summer Vacation भोर हुई, दिन चढ़ा बांस भर, बजे नगाड़े गरमी के। गरमी...

Read more

बाल गजल : खेल रहे हैं बच्चे टेनिस

Funny Poem घोड़े पर है आसमान में, मुन्नी रानी बड़ी शान में। गुड्डी...

Read more

बाल गीत : पानी झर-झर गाता है

नदी नाचती रेत उछलती, पानी झर-झर गाता है। एक बुलबुला...

Read more

मजेदार बाल कविता : पेटराम ने खूब छकाया

इसको कहते लोग समोसा, उसको कहते लोग कचौड़ी। लेकिन जिसमें...

Read more

बाल कविता: बचपन गीत सुनाता चल

बचपन गीत सुनाता चल। हंसता और मुस्कुराता चल। मिले राह में...

Read more

होली पर मजेदार कविता : देखो-देखो होली है आई

शीत ऋतु की हो रही है बिदाई, ग्रीष्म ऋतु की आहट है आई, सूरज...

Read more

रंगबिरंगी होली पर कविता : कितनी प्यारी पिचकारी

Holi Poem in Hindi पिचकारी रे पिचकारी रे, कितनी प्यारी पिचकारी।...

Read more

होली पर कविता: एक वर्ष में होली आई

एक वर्ष में होली आई। जी भर खेलो खाओ मिठाई।। ध्यान लगाकर...

Read more

होली कविता : होली पर्व है सबका प्यारा

रंगों के पर्व होली पर पढ़ें मजेदार हिन्दी कविता। चलो...

Read more

बाल कविता : समय कभी न व्यर्थ गंवाओ

पूरब की खिड़की से झांका, नन्हा बालक भोला भाला। अरे-अरे यह...

Read more

बाल गीत : रोटी कहां छुपाई

रोटी कहां छुपाई, लगे देखने टेलीविजन, चूहे घर के सारे। देख...

Read more

बाल कविता : हिंदी बहुत जरूरी है

दस मंजिल से नीचे आती, मम्मी के संग लिफ्ट में। सुबह-सुबह ही...

Read more

गणतंत्र दिवस पर बच्चों के लिए 5 सरल कविताएं

26 जनवरी (26 January), गणतंत्र दिवस (gantantra diwas 2022) पर पढ़ें बच्चों के लिए...

Read more

गणतंत्र दिवस पर हिन्दी कविता: करें तिरंगे की पूजा

थाली में है रोली-कुमकुम, पीला चंदन है। करें तिरंगे की...

Read more

Latest 20