Home / Articles / DM साहब! मुझे मेरी पत्नी से बचाओ, शक कर करती है, लड़ती है... भला-बुरा कहती है...

DM साहब! मुझे मेरी पत्नी से बचाओ, शक कर करती है, लड़ती है... भला-बुरा कहती है...

कानपुर देहात। कानपुर देहात में जिलाधिकारी के पास एक अनोखा मामला पहुंचा है जिसमें एक युवक ने जिलाधिकारी से गुहार लगाते हुए कहा है कि 'मुझे मेरी पत्नी से बचाओ। वह मुझ पर बहुत शक करती है जिसके चलते मुझे परेशान करती रहती है'। - Wife victim youth pleaded with District Magistrate id="ram"> अवनीश कुमार| Last Updated: गुरुवार, 12 मई 2022 (21:22 IST) कानपुर देहात। कानपुर देहात में

  • Posted on 12th May, 2022 20:25 PM
  • 1201 Views
DM साहब! मुझे मेरी पत्नी से बचाओ, शक कर करती है, लड़ती है... भला-बुरा कहती है...   Image
अवनीश कुमार| Last Updated: गुरुवार, 12 मई 2022 (21:22 IST)
कानपुर देहात। में जिलाधिकारी के पास एक अनोखा मामला पहुंचा है जिसमें एक युवक ने जिलाधिकारी से लगाते हुए कहा है कि 'मुझे मेरी पत्नी से बचाओ। वह मुझ पर बहुत शक करती है जिसके चलते मुझे परेशान करती रहती है'।

युवक की शिकायत का संज्ञान लेते हुए जिलाधिकारी ने सखी वन स्टाप सेंटर को प्रकरण भेजा और कांउसलिंग कराने का निर्देश दिया है जिसके बाद तत्काल मौके पर पहुंच सखी की टीम ने पति-पत्नी को समझाने का प्रयास भी किया।

क्या है मामला?: कानपुर देहात के राजपुर कस्बा निवासी एक बुक स्टाल संचालक की शादी 6 वर्ष पहले संदलपुर की एक युवती से हुई थी। बुक स्टाल संचालक ने जिलाधिकारी को पत्र भेजकर अपना दर्द बयां किया और लिखा है कि मेरी पत्नी मुझ पर शक करती और दुकान में आकर झगड़ा करती है। इस वजह से वह मानसिक रूप से परेशान है। पत्नी से तलाक चाहता हूं। आपसे निवेदन है कि 'मुझे मेरी पत्नी से बचाओ, वह मुझ पर बहुत शक करती है जिसके चलते और परेशान करती रहती है'।
बुक स्टाल संचालक की शिकायत पढ़ने के बाद जिलाधिकारी ने तत्काल प्रभाव से जिला प्रोबेशन अधिकारी अभिषेक पांडेय को दी तो उन्होंने संज्ञान लेते हुए तत्काल प्रभाव से शिकायती पत्र को सखी वन स्टाप सेंटर भेज दिया। जिसके बाद तत्काल प्रभाव से सखी वन स्टाप सेंटर टीम बुक स्टाल संचालक के घर पहुंची। टीम में शामिल निधि सचान ने दोनों को अलग-अलग बैठाकर काफी देर तक समझाया।
क्या बोले काउंसलर?:

सखी वन स्टाप सेंटर की निधि सचान ने बताया कि युवक और युवती से बातचीत हो गई है। 1 सप्ताह बाद उन्हें केंद्र पर बुलाया गया है, जहां फिर सुनवाई होगी। बातचीत के जरिये दोनों को समझाया जाएगा और दोनों के बीच चल रहे मतभेद को समाप्त कराने का प्रयास किया जाएगा।

Latest Web Story

Latest 20 Post