Home / Articles / WHO की चेतावनी, ओमिक्रॉन को आखिरी वैरिएंट ना समझें

WHO की चेतावनी, ओमिक्रॉन को आखिरी वैरिएंट ना समझें

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के प्रमुख टेड्रोस अदहानोम गेब्रेयेसस ने चेतावनी देते हुए कहा कि कोरोना वायरस के और स्वरूपों के आने के लिए आदर्श स्थिति बनी हुई है। उन्होंने कहा कि यह मानना कि ओमीक्रोन आखिरी स्वरूप है या हम महामारी के अंतिम दौर में हैं, खतरनाक सोच है। id="ram"> पुनः संशोधित मंगलवार, 25 जनवरी 2022 (09:12 IST) विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के प्रमुख

  • Posted on 25th Jan, 2022 04:45 AM
  • 1230 Views
WHO की चेतावनी, ओमिक्रॉन को आखिरी वैरिएंट ना समझें   Image
पुनः संशोधित मंगलवार, 25 जनवरी 2022 (09:12 IST)
विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के प्रमुख टेड्रोस अदहानोम गेब्रेयेसस ने चेतावनी देते हुए कहा कि कोरोना वायरस के और स्वरूपों के आने के लिए आदर्श स्थिति बनी हुई है। उन्होंने कहा कि यह मानना कि ओमीक्रोन आखिरी स्वरूप है या हम महामारी के अंतिम दौर में हैं, खतरनाक सोच है।

हालांकि उन्होंने कहा कि अगर अहम लक्ष्यों को हासिल कर लिया जाता है तो महामारी का घातक दौर इस साल खत्म हो सकता है।

विश्व निकाय के महानिदेशक गेब्रेयेसस ने कहा कि महामारी के घातक चरण को खत्म करना हमारी सामूहिक प्राथमिकता होनी चाहिए। उन्होंने WHO की कार्यकारी बोर्ड की बैठक की शुरुआत में कहा, महामारी कैसा रूप धारण करेगी और कैसे विकट चरण को खत्म किया जाए इसको लेकर अलग-अलग परिदृश्य हैं। लेकिन यह मानना खतरनाक होगा कि ओमीक्रोन, वायरस का आखिरी स्वरूप होगा या महामारी खत्म होने को है।
गेब्रेयेसस ने जोर देकर कहा कि हम महामारी को दिए गए वैश्विक स्वास्थ्य आपातकाल के दर्जे को खत्म कर सकते हैं और यह हम इसी साल कर सकते हैं। यह डब्ल्यूएचओ के लक्ष्यों को, जैसे प्रत्येक देश में साल के मध्य तक 70 प्रतिशत आबादी का टीकाकरण, कोविड-19 से अधिक खतरे वाले लोगों पर ध्यान केंद्रित कर, जांच में सुधार कर और वायरस और उसके स्वरूप पर नजर रखने के लिए आनुवंशिकी अनुक्रमण की दर बढ़ाने को प्राप्त करके कर सकते हैं।

Latest Web Story

Latest 20 Post