Home / Articles / WhatsApp को बड़ा झटका, 28 प्रतिशत यूजर ने ऐप छोड़ने का बनाया मन : CMR India

WhatsApp को बड़ा झटका, 28 प्रतिशत यूजर ने ऐप छोड़ने का बनाया मन : CMR India

Whatsapp new privacy policy churn users by 28 percent in India as per cmr report : इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप WhatsApp को बड़ा झटका लगने वाला है। भारत में इसके 28 प्रतिशत यूजर कम हो सकते हैं। WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी आने के बाद यूजर्स इस मैसेजिंग ऐप से नाराज चल रहे हैं। प्राइवेसी पॉलिसी की घोषणा के बाद बड़े पैमाने पर यूजर्स Signal और Telegram जैसे ऐप में शिफ्ट हो रहे हैं। इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप WhatsApp को बड़ा झटका लगने वाला है। भारत में इसके 28 प्रतिशत यूजर कम हो सकते

  • Posted on 04th Sep, 2021 05:22 AM
  • 1198 Views
WhatsApp को बड़ा झटका, 28 प्रतिशत यूजर ने ऐप छोड़ने का बनाया मन : CMR India Image

इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप WhatsApp को बड़ा झटका लगने वाला है। भारत में इसके 28 प्रतिशत यूजर कम हो सकते हैं। WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी आने के बाद यूजर्स इस मैसेजिंग ऐप से नाराज चल रहे हैं। प्राइवेसी पॉलिसी की घोषणा के बाद बड़े पैमाने पर यूजर्स Signal और Telegram जैसे ऐप में शिफ्ट हो रहे हैं। हालांकि, WhatsApp ने अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी एक्सेप्ट करने की तारीख को मई तक बढ़ा दी है लेकिन 28 प्रतिशत यूजर ने ऐप को छोड़ने का मन बना लिया है। जबकि 79 प्रतिशत यूजर ने इस ऐप के इस्तेमाल करने के बारे में एक बार फिर से सोचने की बात कही है। Also Read - WhatsApp पर लगा 1952 करोड़ रुपये से ज्यादा का फाइन, जानिए क्या है वजह

यूजर्स के बीच भारी नाराजगी

CMR India के रिपोर्ट के मुताबिक, WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर यूजर 49 प्रतिशत यूजर काफी नाराज हैं। वहीं, 45 प्रतिशत यूजर्स ने WhatsApp पर कभी भरोसा न करने की बात कही है। ऐप इस्तेमाल करने वाले 35 प्रतिशत यूजर्स ने इसे ब्रीच ऑफ ट्रस्ट यानी भरोसे का तोड़ा जाना बताया है। Also Read - Telegram में अब होगी लाइव स्ट्रीमिंग, ग्रुप वीडियो कॉल में जुड़ सकेंगे अनलिमिटेड यूजर्स

मई तक पॉलिसी एक्सेप्ट करने का समय

WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी एक्सेप्ट करने की आखिरी तारीख पहले 8 फरवरी, 2021 थी जिसे कंपनी ने बढ़ाकर 31 मई कर दिया है। इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप का कहना है कि इस दौरान यूजर को नई प्राइवेसी पॉलिसी पढ़ने और समझने का मौका मिलेगा। WhatsApp ने इसके अलावा विज्ञापन के जरिए भी यूजर को नई प्राइवेसी पॉलिसी समझाने की कोशिश की है। इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप का कहना है कि उनकी नई प्राइवेसी पॉलिसी को यूजर के बीच में गलत तरीके से पेश किया गया है।

क्या है नई प्राइवेसी पॉलिसी?

WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी में यूजर डेटा को Facebook और उसकी सहयोगी कंपनियों के साथ साझा करने की बात कही गई है। इसमें यूजर्स की निजी जानकारियों का इस्तेमाल किया जाएगा। कंपनी की नई प्राइवेसी पॉलिसी में यूजर के चैट्स से लेकर अन्य कई निजी जानकारी भी साझा करने की बात कही जा रही है। हालांकि, WhatsApp ने बाद में बयान जारी करके साफ कहा कि यूजर्स के निजी चैट्स पहले की तरही ही सुरक्षित और एनक्रिप्टेड रहेंगे। उसे किसी के साथ शेयर नहीं किया जाएगा, लेकिन यूजर के बीच में इसी बात को लेकर काफी नाराजगी है।

WhatsApp को बड़ा झटका, 28 प्रतिशत यूजर ने ऐप छोड़ने का बनाया मन : CMR India View Story

Latest Web Story

Latest 20 Post