Home / Articles / 5 साल में UPI चढ़ेगा नई ऊंचाई? वित्त मंत्री ने कहा- हर दिन होंगे 1 बिलियन लेनदेन

5 साल में UPI चढ़ेगा नई ऊंचाई? वित्त मंत्री ने कहा- हर दिन होंगे 1 बिलियन लेनदेन

5 साल में UPI चढ़ेगा नई ऊंचाई? वित्त मंत्री ने कहा- हर दिन होंगे 1 बिलियन लेनदेन Image
  • Posted on 21st Sep, 2022 05:23 AM
  • 1391 Views

UPI (यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस) पेमेंट सर्विस को भारत में 2016 में लॉन्च किया गया था। आज यह देश की सबसे पॉपुलर पेमेंट सर्विस है। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को कहा कि यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI)

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को कहा कि यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI) आधारित लेनदेन अगले पांच वर्षों में एक बिलियन प्रति दिन तक पहुंच सकते हैं। Also Read - Infosys चेयरमैन ने कहा, 26 करोड़ भारतीय कर रहे हैं UPI का इस्तेमाल

FICCI द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए, सीतारमण ने कहा कि NPCI (National Payments Corporations of India) द्वारा जारी किए गए आंकड़ों से पता चलता है कि UPI के जरिए जुलाई 2022 में 6.28 बिलियन लेनदेन किए गए। इनके तहत 10.62 ट्रिलियन रुपये या लगभग 11 लाख करोड़ रुपये के ट्रांजेक्शन हुए थे। Also Read - UPI ने तोड़ा अपना ही रिकॉर्ड, अगस्त में दर्ज किए 650 करोड़ से ज्यादा लेनदेन

इन्होंने कहा, “मासिक आधार पर लेनदेन में काफी वृद्धि देखी जा रही है। UPI का लक्ष्य अगले पांच वर्षों में एक दिन में एक अरब लेनदेन की प्रक्रिया करना है।” वित्त मंत्री ने यह भी कहा कि भारत में न केवल प्रमुख शहरों में बल्कि टियर-2 और टियर-3 शहरों और ग्रामीण क्षेत्रों में भी टेक्नॉलजी अपनाने की दर बहुत अधिक है। इन्होंने कहा, “भारतीय नागरिकों द्वारा डिजिटल अपनाना अद्भुत है।” Also Read - नेपाल के बाद UK पहुंची भारत की UPI पेमेंट सर्विस, यहां जानें पूरी डिटेल

इससे पहले इंफोसिस अध्यक्ष और UIDAI (यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया) के फाउंडिंग चेयरमैन Nandan Nilekani ने भारत में UPI (यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस) और आधार से जुड़े पेमेंट सिस्टम के बारे में टिप्पणी दी थी। इन्होंने बेंगलुरू में The India Advantage Summit 2022 पर बोलते हुए कहा कि मोटे तौर पर 26 करोड़ लोग यूपीआई का उपयोग कर रहे हैं और अन्य 15 करोड़ लोग अपने बैंक खातों से पैसे निकालने के लिए आधार से जुड़े पेमेंट सिस्टम का इस्तेमाल कर रहे हैं।

ये कहते हैं, “लगभग 400 मिलियन लोग अपने खातों से पैसे निकालने के लिए डिजिटल मोड का उपयोग कर रहे हैं। मोटे तौर पर लगभग 40-45 प्रतिशत भारतीय डिजिटल फॉर्मैट का उपयोग कर रहे हैं। 10 साल पहले यह शून्य प्रतिशत था। यह उपभोक्ता व्यवहार और उपभोक्ता उपयोग में एक नाटकीय बदलाव है जो बहुत शक्तिशाली हो गया है।”

UPI (यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस) पेमेंट सर्विस को भारत में 2016 में लॉन्च किया गया था। आज यह देश की सबसे पॉपुलर पेमेंट सर्विस है। अगस्त में UPI ने 657 करोड़ ट्रांजेक्शन दर्ज किए हैं। नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ने बताया कि इसके तहत देश में 10.72 लाख करोड़ रुपये का लेनदेन हुआ है।

Related Articles

5 साल में UPI चढ़ेगा नई ऊंचाई? वित्त मंत्री ने कहा- हर दिन होंगे 1 बिलियन लेनदेन View Story

Latest Web Story