Home / Articles / Twitter ने इन देशों में जारी किया खास फीचर, इस बार भी लिस्ट में नहीं भारत का नाम

Twitter ने इन देशों में जारी किया खास फीचर, इस बार भी लिस्ट में नहीं भारत का नाम

Twitter Label Feature कई नए देशों में जारी कर दिया गया है। हालांकि कंपनी ने इसे भारत में जारी नहीं किया है। Twitter ने इस फीचर को दो फेज में जारी किया है और दोनों ही फेज में भारत में नाम शामिल नहीं है। Twitter ने पिछले साल Label फीचर जारी किया था, जिसके दूसरे फेज को रोलआउट कर दिया गया है। इसकी मदद से

  • Posted on 04th Sep, 2021 05:15 AM
  • 1064 Views
Twitter ने इन देशों में जारी किया खास फीचर, इस बार भी लिस्ट में नहीं भारत का नाम Image

Twitter ने पिछले साल Label फीचर जारी किया था, जिसके दूसरे फेज को रोलआउट कर दिया गया है। इसकी मदद से सरकारी अधिकारियों, दुनियाभर के नेताओं, सरकारी मान्यता प्राप्त मीडिया संस्थानों और सेंट्रल अथॉरिटीज से मान्यता प्राप्त संस्थाओं को एक लेबल (Label) दिया जाता है। Also Read - Twitter ने लॉन्च किया Super Follow फीचर, अब यूजर्स कर पाएंगे अच्छी कमाई

ट्विटर इस फीचर के जरिए सूचना के भरोसेमंद माध्यम को हर देश में चिन्हित करता है। यह कदम जियो-सोशल-पॉलिटिकल कन्वर्सेशन के लिए बेहद फायदे वाला माना जा रहा है। हालांकि, खास बात यह है कि Twitter ने इस बार भी Label फीचर को भारत में नहीं लाया है। नया Twitter label फीचर सिर्फ चीन, रूस, G7 (कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, यूएसए, यूके) समेत कुछ अन्य देशों में उपलब्ध होगा। इस लिस्ट में भारत का नाम नहीं है। Also Read - Koo App पर यूजर्स की संख्या 1 करोड़ के पार, अगले साल तक 10 करोड़ तक पहुंचे का है टार्गेट

खबर लिखे जाने तक यह बात साफ नहीं है कि ट्विटर ने किस आधार पर इस लिस्ट में देशों का चयन किया है। एक ब्लॉग पोस्ट में इस फीचर के बारे में बताते हुए ट्विटर ने कहा है कि इस लिस्ट में शामिल देशों ने खुद को ‘state-linked information operations’ के तौर पर आइडेंटिफाई किया है। Also Read - Twitter Spaces के लिए आएंगे ये 4 नए फीचर्स, मिलेगा Replay का ऑप्शन

Twitter का नया फीचर क्या है?

ट्विटर ने ब्लॉग में कहा है, ‘हमारा फोकस सीनियर अधिकारियों, स्टेट हेड और ऐसी संस्थाएं हैं, जो देश की आवाज हैं। हमारा विश्वास है कि यह एक जरूरी कदम है, क्योंकि जब किसी अकाउंट से जियोपॉलिटिकल (भू-राजनैतिक) मुद्दे पर बात की जाए, तो देखने वाले यूजर को पता हो कि वह अकाउंट अफिलिएटेड है या नहीं। इससे यूजर्स को बेहतर जानकारी मिलेगी कि उस मुद्दे को पेश करने वाला व्यक्ति कौन है।’ फिलहाल इस बात पर कोई जानकारी नहीं है कि ट्विटर का यह फीचर इंडिया में क्यों नहीं आ रहा है।

यह फीचर अगस्त, 2020 में आया था। ट्विटर ने पहले फेज में China, France, Russian Federation, United Kingdom और United States में इस फीचर को जारी किया था। 17 फरवरी 2021 को दूसरे फेज में ट्विटर ने Canada, Cuba, Ecuador, Egypt, Germany, Honduras, Indonesia, Iran, Italy, Japan, Saudi Arabia, Serbia, Spain, Thailand, Turkey और United Arab Emirate में भी यह फीचर रोलआउट कर दिया है।

विवादों में है ट्विटर

बता दें कि माइक्रोब्लॉगिंग साइट Twitter पिछले कुछ दिनों से काफी चर्चा में है। हाल में कई विदेशी सेलिब्रिटीज ने ट्विटर पर किसान आंदोलन के समर्थन में ट्वीट किया। इसमें पॉप स्टार रिहाना, एनवायरमेंट एक्टिविस्ट ग्रेटा थनबर्ग समेत कई लोग शामिल हैं। प्रतिक्रिया में कई भारतीय सेलिब्रिटीज ने ट्वीट कर किसान आंदोलन को भारत का आंतरिक मामला बताया। इस पूरे मामले में सरकार ने ट्विटर को चेतावनी के साथ कुछ अकाउंट बंद करने का आदेश दिया। ट्विटर ने ब्लॉग लिखकर इसे अभिव्यक्ति का हनन बताया है।

Twitter ने इन देशों में जारी किया खास फीचर, इस बार भी लिस्ट में नहीं भारत का नाम View Story

Latest Web Story

Latest 20 Post