Home / Articles / Truecaller जैसे ऐप्स की बंद होगी 'दुकान', अब अपने आप पता चलेगा फोन करने वाले का असली नाम

Truecaller जैसे ऐप्स की बंद होगी 'दुकान', अब अपने आप पता चलेगा फोन करने वाले का असली नाम

भारतीय दूरसंचार विभाग की विशेष सलाह पर TRAI अब एक ऐसा सिस्टम बनाने जा रहा है, जिससे कॉल करने वाले यूजर्स को KYC-Based नाम यूजर्स के मोबाइल स्क्रीन पर आ जाएगा। ऐसे में Truecallers जैसे ऐप्स की यूजर्स को कोई जरूरत नहीं होगी। आइए हम आपको इस खबर के बारे में बताते हैं। जब आपके फोन में कोई अंजान व्यक्ति फोन करता है, जिसका नंबर आपके फोन में सेव ना हो तो आप क्या

  • Posted on 21st May, 2022 18:35 PM
  • 1434 Views
Truecaller जैसे ऐप्स की बंद होगी 'दुकान', अब अपने आप पता चलेगा फोन करने वाले का असली नाम Image

जब आपके फोन में कोई अंजान व्यक्ति फोन करता है, जिसका नंबर आपके फोन में सेव ना हो तो आप क्या सोचते हैं? आप यह जरूर सोचते होंगे कि खास फोन करने वाले का नाम पता चल जाता। अब इसके लिए आप ट्रूकॉलर जैसे ऐप्स का इस्तेमाल करते हैं, ताकि आपको कॉल करने वाले व्यक्ति का नाम पता चल सके। अब ट्रूकॉलर जैसे ऐप्स में एक समस्या होती है कि आप उनके द्वारा बताए गए नामों पर यकीन नहीं कर सकते क्योंकि वो गलत भी होते हैं। Also Read - पीएम मोदी ने भारत का पहला '5G टेस्टबेड' देश को किया समर्पित, 5G टेस्टिंग के लिए बनेंगे 'आत्मनिर्भर'

इसके अलावा Truecaller के जरिए उन्हीं व्यक्तियों का नाम पता चलता है, जिसने खुद को ट्रूकॉलर पर रजिस्टर किया हो। इन सभी समस्याओं से अब यूजर्स को निजात मिलने वाली है क्योंकि भारतीय दूरसंचार विभाग अब एक ऐसा सिस्टम तैयार कर रहा है, जिससे आपको फोन करने वाले व्यक्ति का वही नाम दिखाई देगा, जिस नाम से उसने आधार कार्ड आधारित केवाईसी कराया होगा। इसका मतलब आपको आसानी से कॉल करने वाले व्यक्ति की असली पहचान पता चल सकेगी और इसके लिए आपको ट्रूकॉलर टाइप किसी तरह के ऐप्स की भी जरूरत नहीं होगी। Also Read - Reliance Jio के साथ जुड़े लाखों नए सब्सक्राइबर्स, Airtel से हो रही है कड़ी टक्कर

कॉलर्स की आसानी से होगी पहचान

आपको बता दें कि इस सिस्टम को तैयार करने के लिए भारत सरकार ने भी अब हरी झंडी दिखा दी है। भारतीय टेलीकॉम क्षेत्र का लेखा-जोखा रखने वाला भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकरण यानी TRAI ने इस मैक्निज़म को बनाने की पहल पहले ही शुरू कर दी थी लेकिन अब भारत सरकार ने इस विषय पर जोर देते हुए इसपर तेजी से काम करने के निर्देष दिए हैं। Also Read - Truecaller का पॉपुलर कॉल रिकॉर्डिंग फीचर होगा बंद, Google की नई पॉलिसी का असर

ऐसे में अब उम्मीद है कि ट्राई जल्द ही एक ऐसा सिस्टम तैयार कर लेगी, जिसकी मदद से अगर किसी यूजर्स को कोई अनजान व्यक्ति भी कॉल करेगा तो यूजर्स को अपने फोन पर वही नाम दिखाई देगा, जिस नाम से केवाईसी आधारिक उस मोबाइल कनेक्शन को लिया गया होगा। ऐसे में कॉलर की असली पहचान मिल जाएगी और इसके लिए ट्रूकॉलर जैसे किसी ऐप की भी जरूरत नहीं होगी। वहीं सरकारी रिकॉर्ड्स की जानकारी होगी तो इसका मतलब वो बिल्कुल सटीक यानी सही भी होगी।

जल्द शुरू होगा काम

इस सिस्टम के बारे में बात करते हुए भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकरण (ट्राई) के चेयरमैन पी डी वाघेला ने जानकारी दी कि, ‘इस सिस्टम को बनाने पर जल्द ही एक मीटिंग होने वाली है, जिसमें किसी यूजर्स को कॉल करने वाले कॉलर का KYC आधारित नाम उसके मोबाइल स्क्रीन पर दिखेगा। उन्होंने बताया कि अब उन्हें भारतीय दूरसंचार विभाग की तरफ से भी इस पर काम करने के निर्देष मिले हैं। ऐसे में अब जल्द ही इस तंत्र पर काम शुरू किया जाएगा’

Truecaller जैसे ऐप्स की बंद होगी 'दुकान', अब अपने आप पता चलेगा फोन करने वाले का असली नाम View Story

Latest Web Story

Latest 20 Post