मकर संक्रांति पर आज से शुरू हो जाएंगे मांगलिक कार्य, जानें तिथि, वाहन और इस बार के शुभ संयोग

मकर संक्रांति पर आज से शुरू हो जाएंगे मांगलिक कार्य, जानें तिथि, वाहन और इस बार के शुभ संयोग   Image

आज मकर संक्रांति है। इस बार मकर संक्रांति का वाहन सिंह और उपवाहन अश्व है। इस दिन नौ ग्रहों के राजा सूर्य अपना राशि परिवर्तन कर मकर राशि में प्रवेश करेंगे। id="ram"> shubh sankranti 2022 आज मकर संक्रांति (Makar sankranti 2022) है। इस बार मकर संक्रांति का वाहन सिंह

shubh sankranti 2022
आज मकर संक्रांति (Makar sankranti 2022) है। इस बार मकर संक्रांति का सिंह और उपवाहन अश्व है। इस दिन नौ ग्रहों के राजा सूर्य अपना राशि परिवर्तन कर मकर राशि में प्रवेश करेंगे। सूर्य के मकर राशि में प्रवेश करते ही देशभर में 'मकर-संक्रांति' के पर्व तथा मांगलिक कार्यों का शुभारंभ हो जाएगा। हिन्दू धर्मशास्त्रों के अनुसार आज नदी में स्नान करते समय कुटे तिल का उबटन लगाकर स्नान करना एवं तिल से बनी वस्तुओं दान, कंबल एवं वस्त्रादि का दान करना श्रेयस्कर रहेगा।


सनातन धर्म में सूर्यदेव (Lord Sun) की उपासना (Sun Worship) वैदिक काल से चली आ रही है। मकर संक्रांति (Makar sankranti) भगवान सूर्यदेव का त्योहार है। प्रतिवर्ष की तरह वर्ष 2022 में मकर संक्राति का त्योहार 14 जनवरी को मनाया जा रहा है। इस दिन सूर्यदेव के उत्तरायन होने से शुभ कार्यों की शुरुआत भी हो जाएगी। सनातन धर्म के प्रमुख त्योहारों में से एक मकर संक्रांति पर्व को गंगा स्नान, सूर्य उपासना, पतंगबाजी का उत्सव और दान-धर्म के साथ ही खिचड़ी के लिए भी जाना जाता है।

14 जनवरी को सूर्यदेव मकर राशि (Makar Rashi) में गोचर करेंगे, जहां उनके पुत्र शनिदेव (Shanidev) पहले से ही विराजमान हैं। ज्योतिष के अनुसार करीब 29 साल बाद 14 जनवरी को सूर्य और शनि ग्रह का मकर राशि में होना एक बड़ा ही दुर्लभ संयोग बन रहा है। इससे पूर्व में यह संयोग सन् 1993 में बना था। उस समय भी शनि और सूर्य एकसाथ मकर राशि में विराजमान थे।

14 जनवरी 2022, शुक्रवार को संक्रांति काल (Sankranti Kaal) 14.42 मिनट रहेगा। इसका पुण्यकाल दोपहर 02.43 से शाम 05.45 तक रहेगा, जिसकी पुण्य काल कुल अवधि 03 घंटे 02 मिनट तक रहेगी। और महा पुण्यकाल का समय दोपहर 02.43 मिनट से रात्रि 04.28 मिनट तक रहेगा तथा महा पुण्यकाल (Sankranti Punyakaal) की अवधि कुल 01 घंटा 45 मिनट तक रहेगी।

जानिए शुभ मुहूर्त-
14 जनवरी 2022, शुक्रवार
संक्रांति काल- 14.42 मिनट।

पुण्यकाल - दोपहर 02.43 से शाम 05.45 तक।

पुण्य काल अवधि- कुल 03 घंटे 02 मिनट तक।

महा पुण्यकाल- दोपहर 02.43 से रात्रि 04.28 तक

महा पुण्यकाल अवधि- 01 घंटा 45 मिनट तक।

14 जनवरी 2022 संक्रांति स्नान-
सुबह- 14.12.26 से

अभिजीत मुहूर्त- 11.46 एएम से 12.29 पीएम तक।

अमृत काल- 04.40 पीएम से 06.29 पीएम तक।

ब्रह्म मुहूर्त- 05.38 एएम से 06.26 एएम

विजय मुहूर्त- 01.54 पीएम से 02.37 पीएम तक।

गोधूलि बेला- 05.18 पीएम से 05.42 पीएम तक।
आज का शुभ समय- 7:30 से 10:45, 12:20 से 2:00 तक रहेगा।

आज का राहुकाल- प्रात: 10:30 से 12:00 बजे तक रहेगा।

आज का सूर्य मंत्र- 'ॐ घृणि सूर्याय नम:'
- मंत्र का 108 बार रुद्राक्ष की माला से जाप करें।

मांग‍लिक कार्यों के मुहूर्त- Vivah Muhurat January 2022


About author
You should write because you love the shape of stories and sentences and the creation of different words on a page.