Home / Articles / ताइवान पर चीन और अमेरिका में बढ़ा तनाव, एयरबेस का इस्तेमाल नहीं करने को कहा

ताइवान पर चीन और अमेरिका में बढ़ा तनाव, एयरबेस का इस्तेमाल नहीं करने को कहा

ताइवान पर चीन और अमेरिका में बढ़ा तनाव, एयरबेस का इस्तेमाल नहीं करने को कहा   Image
  • Posted on 03rd Aug, 2022 06:06 AM
  • 1160 Views

बीजिंग/वाशिंगटन। चीन ने अमेरिकी संसद की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी के ताइवान दौरे को ‘बेहद खतरनाक’ करार दिया। पेलोसी पर ‘आग से खेलन’ का आरोप लगाते हुए चेतावनी दी कि जो लोग आग से खेलते हैं वे इससे नष्ट हो जाते हैं। इस बीच चीन ने अमेरिकी राजदूत को बुलाकर चेतावनी दी है कि ताइवान के एयरबेस का इस्तेमाल ना करें। इधर अमेरिका ने भी इंडोनेशिया में सैन्य अभ्यास शुरू किया है। - tention between china and usa on taiwan increased id="ram"> पुनः संशोधित बुधवार, 3 अगस्त 2022 (11:13 IST) हमें फॉलो करें बीजिंग/वाशिंगटन। चीन ने

पुनः संशोधित बुधवार, 3 अगस्त 2022 (11:13 IST)
हमें फॉलो करें
बीजिंग/वाशिंगटन। ने अमेरिकी संसद की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी के दौरे को ‘बेहद खतरनाक’ करार दिया। पेलोसी पर ‘आग से खेलन’ का आरोप लगाते हुए चेतावनी दी कि जो लोग आग से खेलते हैं वे इससे नष्ट हो जाते हैं। इस बीच चीन ने अमेरिकी राजदूत को बुलाकर चेतावनी दी है कि ताइवान के का इस्तेमाल ना करें।

चीनी बयान के जवाब में, अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा प्रवक्ता जॉन किर्बी ने कहा कि इस यात्रा को संकट या संघर्ष के लिए एक उत्साहजनक घटना बनने का कोई कारण नहीं है। उन्होंने दोहराया कि यात्रा चीन के प्रति अमेरिका की लंबे समय से चली आ रही नीति के अनुरूप थी और देश की संप्रभुता का उल्लंघन नहीं करती है।

जैसे ही पेलोसी का विमान नीचे उतरा, चीनी सरकारी मीडिया ने दावा किया कि उसके सैन्य जेट ताइवान जलडमरूमध्य को पार कर रहे थे। ताइवान ने उस समय उन रिपोर्टों का खंडन किया था - लेकिन बाद में कहा कि 20 से अधिक चीनी सैन्य विमानों ने मंगलवार को उसके वायु रक्षा क्षेत्र में प्रवेश किया था।
चीन ताइवान को एक अलग प्रांत के रूप में देखता है और मानता है कि एक दिन उसके साथ एकजुट हो जाएगा। उसने पहले चेतावनी दी थी कि उसके सशस्त्र बल ‘मूर्खतापूर्वक खड़े नहीं होंगे।

पेलोसी के आगमन के एक घंटे के भीतर, चीन ने घोषणा की कि पीपुल्स लिबरेशन आर्मी इस सप्ताह के अंत में ताइवान के आसपास हवा और समुद्र में लाइव-फायर सैन्य अभ्यास की एक श्रृंखला आयोजित करेगी।
इससे पहले सुश्री पेलोसी ने कहा कि उनकी यात्रा ने ‘ताइवान के जीवंत लोकतंत्र का समर्थन करने के लिए अमेरिका की अटूट प्रतिबद्धता’ का सम्मान किया और अमेरिकी नीति का खंडन नहीं किया। उन्होंने चीन पर वन चीन पॉलिसी के उल्लंंघन का भी आरोप लगाया।

अमेरिका में इंडोनेशिया का युद्धाभ्यास : हिंद-प्रशांत क्षेत्र में चीन की बढ़ती सैन्य गतिविधियों के बीच अमेरिका और इंडोनेशिया ने आपसी संबंधों के और मजबूत होने का संकेत देते हुए बुधवार को सुमात्रा द्वीप में वार्षिक संयुक्त सैन्य अभ्यास शुरू किया, जिसमें पहली बार अन्य देशों ने भी भाग लिया। 14 अगस्त तक चलेगा और इसमें थलसेना, नौसेना, वायुसेना और मरीन सभी भाग ले रहे हैं।

ताइवान पर चीन और अमेरिका में बढ़ा तनाव, एयरबेस का इस्तेमाल नहीं करने को कहा View Story

Latest Web Story

Latest 20 Post