Home / Articles / युवक की हत्या के बाद भीलवाड़ा में तनाव, हिन्दू संगठनों ने बुलाया था बंद, धारा 144, इंटरनेट भी बंद

युवक की हत्या के बाद भीलवाड़ा में तनाव, हिन्दू संगठनों ने बुलाया था बंद, धारा 144, इंटरनेट भी बंद

भीलवाड़ा। राजस्थान के कई शहरों में दो समुदायों के बीच तनाव की खबरें सामने आई थीं। राजस्थान के भीलवाड़ा में मंगलवार देर रात एक युवक की हत्या के बाद तनाव उत्पन्न हो गया। हालात को कंट्रोल करने के लिए जिला कलेक्टर आशीष मोदी ने भीलवाड़ा जिले मे 24 घंटे के लिए इंटरनेट बंद कर धारा-144 लागू कर दी। हिन्दू संगठनों के आह्वान पर बुधवार को भीलवाड़ा के अधिकांश बाजार बंद रहे। भाजपा ने बंद का समर्थन किया है। - tension increased after the murder of youth in bhilwara rajasthan id="ram"> पुनः संशोधित बुधवार, 11 मई 2022 (21:21 IST) भीलवाड़ा। राजस्थान के कई शहरों में दो

  • Posted on 12th May, 2022 22:45 PM
  • 1488 Views
युवक की हत्या के बाद भीलवाड़ा में तनाव, हिन्दू संगठनों ने बुलाया था बंद, धारा 144, इंटरनेट भी बंद   Image
पुनः संशोधित बुधवार, 11 मई 2022 (21:21 IST)
भीलवाड़ा। राजस्थान के कई शहरों में दो समुदायों के बीच की खबरें सामने आई थीं। राजस्थान के भीलवाड़ा में मंगलवार देर रात एक युवक की हत्या के बाद तनाव उत्पन्न हो गया। हालात को कंट्रोल करने के लिए जिला कलेक्टर आशीष मोदी ने भीलवाड़ा जिले मे 24 घंटे के लिए बंद कर धारा-144 लागू कर दी। हिन्दू संगठनों के आह्वान पर बुधवार को भीलवाड़ा के अधिकांश बाजार बंद रहे।

भाजपा ने बंद का समर्थन किया है।

एसआईटी का गठन : बंद के दौरान भाजपा, बजरंग दल, हिन्दू जागरण मंच और विश्व हिन्दू परिषद के कार्यकर्ताओं ने शहर में घूमकर लोगों से समर्थन मांगा। शहर में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। सरकार ने इस मामले की जांच के लिए अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक बीजू जार्ज जोसफ की अगुवाई में एसआईटी गठित की है।

क्या है मामला : मंगलवार देर रात क्षेत्र के शास्त्री नगर में आदर्श तापड़िया पर दो व्यक्तियों ने चाकू से हमला कर दिया, इससे उसकी मौत हो गई। इसके बाद शहर के महात्मा गांधी अस्पताल में भीड़ जमा हो गई। परिवार ने शव लेने से इंकार कर दिया और तनाव हो गया।
पोस्टमार्टम पर बनी सहमति : सांगानेर क्षेत्र में आदर्श तापड़ियां हत्या के मामले में प्रशासन के साथ सहमति बन गई और पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया। पुलिस के अनुसार हत्या के बाद उत्पन्न स्थिति पर पुलिस और प्रशासन ने आदर्श के परिजनों से बातचीत की और दो दौर की बातचीत सफल रही।

मुआवजे की मांग स्वीकारी : इसमें 20 लाख रुपए का मुआवजा और निजी कंपनी में आश्रित को नौकरी देने के नाम पर सहमति बनी है। इसके बाद परिजन शव लेने के लिए राजी हो गए और पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया। हालांकि क्षेत्र में स्थिति के मद्देनजर पुलिस बल तैनात किया हुआ है। इस मामले में तीन नाबालिगों को निरुद्ध किया गया है और फिलहाल इंटरनेट बंद है। फिलहाल क्षेत्र में शांति बताई जा रही है।
(file photo)

Latest Web Story

Latest 20 Post