Home / Articles / श्री कृष्ण जन्माष्टमी कब है, जानिए शुभ मुहूर्त और संयोग

श्री कृष्ण जन्माष्टमी कब है, जानिए शुभ मुहूर्त और संयोग

श्री कृष्ण जन्माष्टमी कब है, जानिए शुभ मुहूर्त और संयोग   Image
  • Posted on 04th Aug, 2022 11:36 AM
  • 1140 Views

Krishna Janmashtami 2022: प्रतिवर्ष भाद्रपद अर्थात भादो मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी को कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व मनाया जाता है। इस दिन भगवान श्रीकृष्ण का जन्म हुआ था। इस दिन ब्रजमंडल अर्थात मथुरा, वृंदावन, गोकुल और बरसाने में जन्मोत्सव की धूम रहती है। इस बार श्रीकृष्ण का 5250वां जन्मोत्सव मनाया जाएगा। आओ जानते हैं कि कब है श्री कृष्ण जन्माष्टमी का त्योहार। - Shree krishna janmashtami kab hai id="ram"> पुनः संशोधित गुरुवार, 4 अगस्त 2022 (16:48 IST) हमें फॉलो करें Krishna Janmashtami 2022: प्रतिवर्ष

पुनः संशोधित गुरुवार, 4 अगस्त 2022 (16:48 IST)
हमें फॉलो करें
2022: प्रतिवर्ष भाद्रपद अर्थात भादो मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी को कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व मनाया जाता है। इस दिन भगवान श्रीकृष्ण का जन्म हुआ था। इस दिन ब्रजमंडल अर्थात मथुरा, वृंदावन, गोकुल और बरसाने में जन्मोत्सव की धूम रहती है। इस बार श्रीकृष्ण का 5250वां जन्मोत्सव मनाया जाएगा। आओ जानते हैं कि कब है श्री कृष्ण जन्माष्टमी का त्योहार।

1. कब है कृष्‍ण जन्माष्टमी : अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार इस बार श्री कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व 19 अगस्त 2022 शुक्रवार को मनाया जाएगा। पंचांग भेद से कुछ लोग 18 अगस्त को भी मनाएंगे।

2. 19 को क्यों मनाई जा रही जन्माष्टमी : श्रीकृष्ण का जन्म भाद्रपद के कृष्ण पक्ष की रात्रि के 7 मुहूर्त निकल जाने के बाद जब 8वां मुहूर्त उपस्थित हुआ तभी उनका जन्म हुआ। उस दौरान आधी रात थी। यदि हम आठवें मुहूर्त की बात करें तो 19 को यह रहेगा और यदि आधी रात की बात करें तो यह 18 को रहेगी।

3. 18 को क्यों मनाई जा रही जन्माष्टमी :

8 तारीख को सप्तमी तिथि रा‍त्रि 09:20 बजे तक तक रहेगी उसके बाद अष्टमी तिथि प्रारंभ हो जाएगी, जो अगले दिन यानी 19 अगस्त को रात्रि 10:59 तक रहेगी। इसलिए 18 की रात्रि को 12 बजे अष्टमी मनाई जा सकती है।
19 अगस्त के :
- अभिजीत मुहूर्त : सुबह 11:36 से 12:27 तक।
- विजय मुहूर्त : दोपहर 02:11 से 03:03 तक।
- गोधूलि मुहूर्त : शाम 06:17 से 06:41 तक।
- सायाह्न संध्या मुहूर्त : शाम 06:30 से 07:36 तक।
- निशिता मुहूर्त : रात्रि 11:40 से 12:24 तक।
- अमृत काल मुहूर्त : रात्रि 11:16 से 01:01 तक।
- इस दिन बुधादित्य योग रहेगा।

श्री कृष्ण जन्माष्टमी कब है, जानिए शुभ मुहूर्त और संयोग View Story

Latest 20 Post