Home / Articles / नहीं चुका पाया ट्रैक्टर की किस्त, जब्ती के लिए आए लोगों ने गर्भवती महिला को कुचला

नहीं चुका पाया ट्रैक्टर की किस्त, जब्ती के लिए आए लोगों ने गर्भवती महिला को कुचला

नहीं चुका पाया ट्रैक्टर की किस्त, जब्ती के लिए आए लोगों ने गर्भवती महिला को कुचला   Image
  • Posted on 22nd Sep, 2022 04:52 AM
  • 1221 Views

हजारीबाग। झारखंड के हजारीबाग में ट्रैक्टर की किस्त समय पर न चुका पाने पर किसान का ट्रैक्टर जबरन उठाने आए फाइनेंस कंपनी के कर्मियों ने दिव्यांग किसान की गर्भवती बेटी को वाहन से कुचल दिया जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इस सिलसिले में फाइनेंस कंपनी के स्थानीय प्रबंधक समेत 4 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। - Pregnant woman crushed over tractor installment id="ram"> Last Updated: शनिवार, 17 सितम्बर 2022 (09:02 IST) हमें फॉलो करें हजारीबाग। झारखंड के हजारीबाग

Last Updated: शनिवार, 17 सितम्बर 2022 (09:02 IST)
हमें फॉलो करें
हजारीबाग। झारखंड के हजारीबाग में समय पर न चुका पाने पर किसान का ट्रैक्टर जबरन उठाने आए फाइनेंस कंपनी के कर्मियों ने दिव्यांग किसान की गर्भवती बेटी को वाहन से कुचल दिया जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इस सिलसिले में फाइनेंस कंपनी के स्थानीय प्रबंधक समेत 4 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है।

हजारीबाग के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मनोज रतन चौथे ने बताया कि इस सिलसिले में फाइनेंस कंपनी के स्थानीय प्रबंधक समेत 4 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है और सभी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस मुख्यालय के उपाधीक्षक राजीव कुमार के नेतृत्व में विशेष जांच दल का गठन किया गया है, जो उनकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।

उन्होंने बताया कि इचाक पुलिस थाना क्षेत्र के बरियाठ के दिव्यांग किसान मिथिलेश मेहता को महिंद्रा फाइनेंस कंपनी से संदेश मिला था कि वह ट्रैक्टर खरीदने के लिए लिए गए कंपनी के कर्ज की 1 लाख 30 हजार रुपए की बकाया किस्तें गुरुवार तक अवश्य जमा करा दें लेकिन जब वह ऐसा नहीं कर सका तो शुक्रवार को फाइनेंस कंपनी के एजेंट एवं अधिकारी उसके घर पहुंचे और उसका ट्रैक्टर उठा लिया।
उन्होंने बताया कि जब वह किसान का ट्रैक्टर ले जाने लगे तो किसान उनके पीछे भागा और तत्काल 1 लाख 20 हजार की बकाया राशि देने की बात कही लेकिन फाइनेंस कंपनी के कर्मचारी नहीं माने और उसका ट्रैक्टर जबरन लेकर जाने लगे।

उन्होंने बताया कि दिव्यांग किसान की 27 वर्षीय बेटी मोनिका उन्हें रोकने के लिए पीछे भागी लेकिन वह वाहन की चपेट में आ गई जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने शव रखकर प्रदर्शन किया और परिवार को तत्काल 10 लाख रुपए का मुआवजा देने और फाइनेंस कंपनी के कर्मचारियों को गिरफ्तार करने की मांग की।
बाद में महिंद्रा फाइनेंस कंपनी के प्रबंध निदेशक अनीश शाह की ओर से बयान जारी कर इस घटना पर अफसोस जाहिर किया गया और कहा गया कि कंपनी पूरी तरह पीड़ित परिवार के साथ है और घटना की जांच में हरसंभव मदद करेगी।(भाषा)

नहीं चुका पाया ट्रैक्टर की किस्त, जब्ती के लिए आए लोगों ने गर्भवती महिला को कुचला View Story

Latest Web Story