मां दुर्गा पर कविता : मैया नवरातन में मुझ पर कृपा कीजिए

मां दुर्गा पर कविता : मैया नवरातन में मुझ पर कृपा कीजिए   Image
  • Posted on 22nd Sep, 2022 10:41 AM
  • 1266 Views

Poem on Navratri 2022 : नवरात्रि में व्रत रखकर मां दुर्गा की पूजा-आराधना की जाती है, यहां पढ़ें मां दुर्गा के प्रति श्रद्धा भाव दर्शाती नवरात्रि पर दुर्गा भक्ति की कविता। चरणों में अपनी जगह दीजिए, मैया तेरी है महिमा बड़ी, तेरी गरिमा बड़ी, दादी, नानी ने गाई और हमने सुनी, मेरी सोई किस्मत जगा दीजिए, मैया चरणों में अपनी जगह दीजिए। Navratri Par Kavita In Hindi - Poem on Navratri Festival 2022 id="ram"> राकेशधर द्विवेदी| हमें फॉलो करें नवरात्रि पर कविता 2022 : Navratri Par Kavita मैया

: Navratri Par Kavita
मैया में मुझ पर कृपा कीजिए

चरणों में अपनी जगह दीजिए
मैया तेरी है महिमा बड़ी, तेरी गरिमा बड़ी
दादी, नानी ने गाई और हमने सुनी
मेरी सोई किस्मत जगा दीजिए
मैया चरणों में अपनी जगह दीजिए।

मैं कब से हूं तुम्हारे दर पर खड़ा
प्रार्थना में है मेरा मस्तक झुका
अपने हाथों को सिर पर लगा दीजिए
मेरी सोई किस्मत जगा दीजिए।

देखो नवरातन में मइया की चौकी सजी
ढोल नगाड़े बजे या कि ज्योति जल
दुष्ट दानव का फिर संहार कीजिए
चरणों में अपनी जगह दीजिए
मैया नवरातन में मुझ पर कृपा कीजिए।

मेरी सोई किस्मत जगा दीजिए
तेरी महिमा बड़ी तेरी गरिमा बड़ी
मैं चुनरिया ले तुम्हारे दुआरे खड़ी
मेरी प्रार्थना को अब स्वीकार कीजिए
मेरी सोई किस्मत जगा दीजिए।

नवरातन में मुझ पर कृपा कीजिए
मुझे चरणों में अपनी जगह दीजिए।

मां दुर्गा पर कविता : मैया नवरातन में मुझ पर कृपा कीजिए View Story

Latest Web Story