Home / Articles / द्रौपदी मुर्मू के नामांकन के दौरान मौजूद नहीं रहेंगे पटनायक

द्रौपदी मुर्मू के नामांकन के दौरान मौजूद नहीं रहेंगे पटनायक

नई दिल्ली। भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने गुरुवार को ओड़िशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से फोन पर बात की और उनसे राष्ट्रपति चुनाव में राजग की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू द्वारा नामांकन पत्र दाखिल किए जाने के दौरान उपस्थित रहने का आग्रह किया। चूंकि पटनायक इटली के दौरे पर हैं, इसलिए उन्होंने अनुपलब्धता के लिए खेद जताया। - Patanik will not present in Draupdi murmu nomination id="ram"> पुनः संशोधित गुरुवार, 23 जून 2022 (15:15 IST) हमें फॉलो करें नई दिल्ली। भाजपा अध्यक्ष

  • Posted on 23rd Jun, 2022 10:06 AM
  • 1281 Views
द्रौपदी मुर्मू के नामांकन के दौरान मौजूद नहीं रहेंगे पटनायक   Image
पुनः संशोधित गुरुवार, 23 जून 2022 (15:15 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने गुरुवार को ओड़िशा के मुख्यमंत्री से फोन पर बात की और उनसे राष्ट्रपति चुनाव में राजग की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू द्वारा नामांकन पत्र दाखिल किए जाने के दौरान उपस्थित रहने का आग्रह किया। चूंकि पटनायक इटली के दौरे पर हैं, इसलिए उन्होंने अनुपलब्धता के लिए खेद जताया।


पटनायक ने अपने मंत्रिमंडल के दो सहयोगियों, जगन्नाथ सारका और टुकुनी साहू को मुर्मू के नामांकन पत्र पर हस्ताक्षर करने और नामांकन के दौरान मौजूद रहने को कहा है। सारका पटनायक मंत्रिमंडल में अनुसूचित जाति और जनजाति विकास मंत्री हैं जबकि टुकुनी साहू के पास जल संसाधन, वाणिज्य और परिवहन मंत्रालय का जिम्मा है।

पटनायक एक ट्वीट में कहा, 'भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने राष्ट्रपति चुनाव में द्रौपदी मुर्मू के नामांकन के संदर्भ में मुझसे बात की। मेरे मंत्रिमंडल के सहयोगी जगन्नाथ सारका और टुकुनी साहू आज नामांकन पत्र पर हस्ताक्षर करेंगे और नामांकन कार्यक्रम में मौजूद रहेंगे।'
मुर्मू शुक्रवार को अपना नामांकन दाखिल करेंगी। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित राजग के विभिन्न वरिष्ठ नेता उनके साथ मौजूद होंगे।
पटनायक ने मुर्मू को राज्य की बेटी बताकर उनकी उम्मीदवारी का समर्थन किया है। उन्होंने बुधवार को राज्य विधानसभा के सभी सदस्यों से अपील की कि वे राष्ट्रपति पद के लिए होने वाले चुनाव में राजग उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू का समर्थन करें।

ओडिशा की 147 सदस्यीय विधानसभा में सत्तारूढ़ बीजद के 114 विधायक हैं। इसके अलावा भाजपा के 22 और कांग्रेस के नौ सदस्य और माकपा का एक सदस्य है। एक निर्दलीय विधायक भी है।
राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव 18 जुलाई को होना है। इसके लिए नामांकन 29 जून तक भरा जा सकेगा और चुनाव परिणाम की घोषणा 21 जुलाई तक हो जाएगी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त हो रहा है।

Latest Web Story

Latest 20 Post