Home / Articles / मानसून में इन 10 जगहों पर जरूर जाएं घूमने

मानसून में इन 10 जगहों पर जरूर जाएं घूमने

Places to visit in monsoon: मानसून यानी बारिश में कम लोग ही घूमने जाते हैं, क्योंकि भारत में कई जगहों पर बारिश का प्रकोप रहता है। फिर भी यदि आप बारिश का मजा लेने चाहते हैं या मानसून में ही घूमना चाहते हैं तो हम आपके लिए लाएं है 10 रोमांचक जगहों के बारे में संक्षिप्त जानकारी। - Must visit these 10 places in monsoon id="ram"> Last Updated: बुधवार, 22 जून 2022 (12:05 IST) हमें फॉलो करें Places to visit in monsoon: मानसून यानी बारिश में

  • Posted on 22nd Jun, 2022 07:06 AM
  • 1027 Views
मानसून में इन 10 जगहों पर जरूर जाएं घूमने   Image
Last Updated: बुधवार, 22 जून 2022 (12:05 IST)
हमें फॉलो करें
Places to visit in monsoon: मानसून यानी बारिश में कम लोग ही घूमने जाते हैं, क्योंकि भारत में कई जगहों पर बारिश का प्रकोप रहता है। फिर भी यदि आप बारिश का मजा लेने चाहते हैं या मानसून में ही घूमना चाहते हैं तो हम आपके लिए लाएं है 10 रोमांचक जगहों के बारे में संक्षिप्त जानकारी।


1. चेरापूंजी : भारतीय राज्य मेघालय एक ऐसा स्थान है जहां पर बारिश का मौसम प्रमुख है। यहां कि कुछ स्थानों पर 12 माह ही बारिश होती है और यहां का मौसम बहुत सुहान माना जाता है। यदि आप मार्च के माह में जंगल और बारिश का मजा लेना लेना चाहते हैं तो मेघालय जरूर जाएं। यहां प्रमुख रूप से शिलॉन्ग को जरूर देखें। मेघालय की राजधानी शिलॉन्‍ग भारत का सबसे खूबसूरत हिल स्टेशन है। इसे पूर्व का स्कॉटलैंड कहा जाता है। दूसरा स्थान है चेरापूंजी या चेर्रापुंजी जो शिलॉन्‍ग से 56 किलो मीटर की दूरी पर है। धरती पर दूसरा सबसे ज्यादा बारिश वाला स्थान है चेर्रापुंजी।
2. चांदीपुर : चांदीपुर तट उड़ीसा राज्य के बालेश्वर शहर से 16 किमी की दूरी पर स्थित है। यहां पर कसुआरिना के पेड़ों और रेत के टीलों का नजारा देखने के लिए लोग बहुत दूर-दूर से आते हैं। यहां पर मानसून में वही लोग जाते हैं जिन्हें बारिश और खतरों का शौक है। यहां मानसून का भरपूर मजा लिया जा सकता है।

3. लोनावला : महाराष्ट्र में मुंबई से करीब 96 किलोमीटर और खंडाला से लगभग 5 कीलोमीटर दूर स्थित है लोनावला (लोणावळा) हिल स्टेशन। पूणे से मात्र 2 घंटे का रास्ता है। इसे झीलों का जिला कहते हैं। मुंबई और पूना वासियों के लिए यह उनका फेवरिट डेस्टिनेशन है। मानसून में यहां घूमना बहुत ही रोमांच भरा रहता है।
4. उदयपुर : उदयपुर में भी आप कभी भी जा सकते हैं। यहां आप झीलों का मजा ले सकते हैं। यहां की हवेलियों और महलों की भव्यता को देखकर दुनिया भर के पर्यटक मंत्रमुग्ध हो जाते हैं। शानदार बाग-बगीचे, झीलें, संगमरमर के महल, हवेलियां आदि इस शहर की शान में चार चांद लगाते हैं। अरावली की पहाड़ियों से घीरे और पांच मुख्य झीलों के इस शहर को देखने या घुमने-फिरने के लिए कभी भी जा सकते हैं। राजस्‍थान में 'जयसमंद झील' को एशिया की सबसे बड़ी कृत्रिम झील होने का दर्जा प्राप्त है। यह उदयपुर जिला मुख्यालय से 51 किमी दूर दक्षिण-पूर्व की ओर उदयपुर-सलूम्बर मार्ग पर स्थित है।
Munnar hill station
5. मुन्नार : केरल का मुन्नार हिल स्टेशन स्वर्ग के समान है। तीन पर्वतों की श्रृंखला- मुथिरपुझा, नल्लथन्नी और कुंडल, के मिलन स्थल पर स्थित है मुन्नार। इस हिल स्टेशन की पहचान है यहां के विस्तृत भू-भाग में फैली चाय की खेती, औपनिवेशिक बंगले, छोटी नदियां, झरनें और ठंडे मौसम। मुन्नार से मात्र 15 किलोमीटर दूर इरविकुलम राष्ट्रीय उद्यान लुप्तप्राय प्राणी- नीलगिरी टार के लिए जाना जाता है। 97 वर्ग किमी में फैला यह उद्यान तितलियों, जानवरों और पक्षियों के अनेक दुर्लभ प्रजातियों का बसेरा है।

6. कोडाइकनाल : तमिलनाडु में मदुराई से उत्तर की और करीब 120 किलोमीटर की दूरी पर स्थित डिंडीगुल जिले में कोडाइकनाल की पहाड़ी है जो लगभग 7000 फ़ीट की ऊंचाई पर है। यह बहुत ही खुबसूरत स्थान है जो हनीमून मनाने वालों को आकर्षित करता है। कोडाइकनाल में देखने के लिए कई सारे स्पॉट है जिनमें सबसे प्रमुख है कॉकर वाक, सिल्वर कास्काल, कोदई लेक, ब्रायन पार्क, पिलर रॉक और बेयर शोला वॉटरफाल। मानसून में यहां पर प्रकृति प्रेमी या वो लोग ही घूमने जाते हैं जिन्हें हनीमून मनाना है।
7. गोवा : भारतीय राज्य गोवा में शानदार समुद्र है। यहां कुछ दिनों को छोड़कर बारिश में तूफान या चक्रवात का ज्यादा खतरा नहीं रहता है। हालांकि यहां पर मानसून में वाटर एक्टीविटी बंद रहती है। मानसून में यहां प्रकृति प्रेमी और हनीमून मनाने वाले ही यहां जाते है। गोआ में मीरामार, कालांगुट तट, पोलोलेम तट, बागा तट, मोवोर, केवेलोसिम तट, जुआरी नदी पर डोना पाऊला तट, अंजुना तट, आराम बोल तट, वागाटोर तट, चापोरा तट, मोजोर्डा तट, सिंकेरियन, वरका तट, कोलवा तट, बेनाउलिम तट, बोगमोलो तट, पालोलेम तट, हरमल तट आदि कई सुंदर और रोमांचक तट हैं। वहां मांडवी, चापोरा, जुआरी, साल, तालपोना और तीराकोल नामक छ: नदियां बहती हैं।
8. दियोरिया ताल : उत्तराखंड में यूं तो बहुत सारी खूबसूरत जगहें हैं। आप नैनीताल भी जा सकते हैं लेकिन दियोरिया ताल में ज्यादा भीड़ नहीं रहती है और मानसून में घूमने लायक अच्छी जगह है। यह उत्तराखंड के छोटे से गांवों मस्तुरा और सारी के पास ही चढ़ाई पर मौजूद इस ताल से दिखने वाला नजारा बहुत ही मनमोहक है।

9. भेड़ाघाट : यहां आपको सफेद संगमरमर के दो पहाड़ों के बीच नर्मदा नदी बहती हुई नजर आएगी। मध्यप्रदेश के जबलपुर के पास भेड़ाघाट नामक यह स्थान धुआंधार झरने के लिए भी प्रसिद्ध है। इसकी छटा अनुपम है और पानी के गिरने की आवाज दूर तक सुनाई देती है। नर्मदा में नौका-विहार करने का रोमांच ही कुछ और है। बारिश में नर्मदा उफान पर होती है। आप मध्यप्रदेश के पचमढ़ी नामक स्थान पर भी जा सकते हैं।
10. जीरो : अरुणांचल प्रदेश में स्थित जीरो टॉउन को वर्ल्ड हेरिटेज में शामिल किया गया है। यहां का झरना और यहां के खूबसूरत नजारों को देखने के लिए मानसून से अच्छा समय कोई दूसरा नहीं हो सकता। अरुणाचल प्रदेश के लोअर सुबंसरी जिले में समुद्रतल से 5600 फीट की ऊंचाई पर स्थित जीरो घाटी दुनिया के कुछ उन मुट्ठीभर ठिकानों में से है, जहां आज भी प्रकृति और परंपराओं की जुगलबंदी कायम है।

इसके अलावा आप चाहें तो कर्नाटक के काकाबे, वेस्ट बंगाल के बिष्णुपुर, महाराष्ट्र के मालशेज घाट, उत्तराखंड के देवप्रयाग, मध्यप्रदेश के ओरछा और पचमढ़ी, असम के माजुली और हिमाचल के सोजा भी जा सकते हैं।


Latest Web Story

Latest 20 Post