Home / Articles / चेन्नई के बल्लेबाजों ने मुंबई के सामने टेके घुटने, 97 रनों पर सिमटी पारी

चेन्नई के बल्लेबाजों ने मुंबई के सामने टेके घुटने, 97 रनों पर सिमटी पारी

मुंबई इंडियन्स की धारदार गेंदबाजी की बलबूते पर दो मैचों से सशक्त दिख रही चेन्नई सुपर किंग्स ने घुटने टेक दिए। चेन्नई की पूरी टीम 97 रनों पर ऑल आउट हो गई टीम के शीर्ष स्कोरर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी रहे। - Mumbai Indians bundles out Chennai Super Kings id="ram"> Last Updated: गुरुवार, 12 मई 2022 (21:49 IST) मुंबई इंडियंस ने गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन की

  • Posted on 12th May, 2022 20:30 PM
  • 1238 Views
चेन्नई के बल्लेबाजों ने मुंबई के सामने टेके घुटने, 97 रनों पर सिमटी पारी   Image
Last Updated: गुरुवार, 12 मई 2022 (21:49 IST)
मुंबई इंडियंस ने गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन की बदौलत गुरूवार को यहां इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) मैच में को16 ओवर में 97 रन पर समेट दिया जो उसका इस लुभावनी टी20 लीग में दूसरा न्यूनतम स्कोर है।

टूर्नामेंट से पहले ही बाहर हो चुकी मुंबई इंडियंस के लिये गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया जिसमें पहले ही ओवर में दो झटके देना शामिल रहा जिससे उसने चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) को दबाव में ला दिया जिससे वह उबर नहीं सकी।

सीएसके के लिये कप्तान महेंद्र सिंह धोनी एक छोर पर 36 रन बनाकर नाबाद रहे जबकि दूसरे छोर पर विकेट गिरते रहे। इसके अलावा टीम के स्कोर में अतिरिक्त रन का योगदान रहा जिसमें 15 रन बने।धोनी के अलावा केवल तीन अन्य बल्लेबाज ही दोहरे अंक तक पहुंच सके जिनका स्कोर अतिरिक्त रन से कम ही रहा।

मुंबई इंडियंस के लिये डेनियल सैम्स ने चार ओवर में 16 रन देकर तीन विकेट लेकर शानदार प्रदर्शन किया।रिले मेरेडिथ और कुमार कार्तिकेय ने तीन तीन ओवर में क्रमश: 27 और 22 रन देकर दो दो विकेट झटके।

जसप्रीत बुमराह ने तीन ओवर में एक मेडन ओवर डाला और 12 रन देकर एक विकेट प्राप्त किया। रमनदीप को अपने एक ओवर में पांच रन देकर एक विकेट मिला।

सीएसके की शुरूआत काफी खराब रही। सैम्स ने मुंबई को गेंदबाजी में बेहतरीन शुरूआत करायी और पहले ही ओवर में दो विकेट झटक लिये।

पिछले तीन मैचों में अर्धशतक जड़ने वाले डेवोन कोनवे पारी की दूसरी गेंद पर पगबाधा आउट हुए और तब डीआरएस का विकल्प भी नहीं था क्योंकि ‘पावर कट’ की वजह से 1.4 ओवर तक डीआरएस उपलब्ध नहीं था इसलिये वे रिव्यू भी नहीं ले पाये।
इतना ही काफी नहीं था कि मोईन अली भी सैम्स की शार्ट गेंद पर शार्ट मिडविकेट पर ऋतिक शौकीन को कैच देकर पवेलियन पहुंचे।इस दोहरे झटके बाद सीएसके उबर ही नहीं सकी और लगातार विकेट गंवाती रही।

दूसरे ही ओवर में रोबिन उथप्पा (01) बुमराह की गुड लेंथ गेंद पर पगबाधा आउट हुए और तब भी डीआरएस उपलब्ध नहीं था। इसके बाद ही बिजली आयी और डीआरएस का शुरू हुआ। इस समय टीम का स्कोर तीन विकेट पर पांच रन था।

अब सीएसके के बल्लेबाजों ने सैम्स को उनके दूसरे ओवर में सतर्कता से खेला। चौथे ओवर में रूतुराज गायकवाड़ और अंबाती रायुडू ने बुमराह पर एक एक चौके लगाये।

पर अगले ओवर में गायकवाड़ (07) सैम्स का तीसरा शिकार बने और गेंद उनके बल्ले को चूमती हुई विकेटकीपर ईशान किशन के हाथों में समां गयी।अब कप्तान धोनी क्रीज पर थे जिन्होंने इसी ओवर में सैम्स पर कवर प्वाइंट में चौका लगाया।

रायुडू (10 रन) छठे ओवर में मेरेडिथ पर चौका लगाने के बाद उनका शिकार हो गये। पावरप्ले में आधी टीम पवेलियन पहुंच चुकी थी और स्कोर बोर्ड पर 32 रन थे।

शिवम दूबे (10) से कप्तान के साथ साझेदारी निभाने की उम्मीद थी लेकिन मेरेडिथ ने ऐसा नहीं होने दिया। दूबे शार्ट गेंद पर बल्ला छुआकर विकेटकीपर को आसान कैच दे बैठे।
(भाषा)

Latest Web Story

Latest 20 Post