Home / Articles / 'मॉडर्न लव मुंबई' के निर्देशक हंसल मेहता ने 'बाई' को लेकर कही यह बात

'मॉडर्न लव मुंबई' के निर्देशक हंसल मेहता ने 'बाई' को लेकर कही यह बात

निर्देशक हंसल मेहता ने अमेजन प्राइम वीडियो के 'मॉडर्न लव मुंबई' की अपनी कहानी 'बाई' में दिखाए गए प्यार की अपनी सोच को सबके साथ साझा किया है। 'मॉडर्न लव मुंबई' अपने दिलचस्प ट्रेलर के रिलीज़ होने के बाद से हर तरफ छाया है। इस एंथोलॉजी में अलग-अलग तरह की 6 खूबसूरत प्रेम कहानियां शामिल हैं और दर्शक इसे देखने का बेसब्री से इंतजार कर रहें है। - modern love mumbari director hansal mehta talk about his story bai id="ram"> पुनः संशोधित सोमवार, 9 मई 2022 (15:57 IST) निर्देशक हंसल मेहता ने अमेजन प्राइम वीडियो

  • Posted on 09th May, 2022 10:35 AM
  • 1242 Views
'मॉडर्न लव मुंबई' के निर्देशक हंसल मेहता ने 'बाई' को लेकर कही यह बात   Image
पुनः संशोधित सोमवार, 9 मई 2022 (15:57 IST)
निर्देशक हंसल मेहता ने अमेजन प्राइम वीडियो के 'मॉडर्न लव मुंबई' की अपनी कहानी 'बाई' में दिखाए गए प्यार की अपनी सोच को सबके साथ साझा किया है। 'मॉडर्न लव मुंबई' अपने दिलचस्प ट्रेलर के रिलीज़ होने के बाद से हर तरफ छाया है। इस एंथोलॉजी में अलग-अलग तरह की 6 खूबसूरत प्रेम कहानियां शामिल हैं और दर्शक इसे देखने का बेसब्री से इंतजार कर रहें है।

ऐसे में बात करें की तो यह भारतीय सिनेमा के प्रमुख फिल्म निर्माताओं - हंसल मेहता, विशाल भारद्वाज, नुपूर अस्थाना, शोनाली बोस, ध्रुव सहगल और अलंकृता श्रीवास्तव द्वारा एक अद्भुत रचना है, जिन्होंने इस एंथोलॉजी में अपनी दूरदर्शी स्टोरीटेलिंग से जादू बिखेरा है जो सपनों के शहर मुंबई में प्यार के अलग-अलग रंग की खोज करता है।

हाल ही में हंसल मेहता, जिन्होंने 'दस कहानियां' के साथ सबसे पहले एंथोलॉजी में अपनी कहानी कहने की प्रतिभा दिखाई है, वो इस बार मॉडर्न लव मुंबई में 'बाई' नाम के प्रेम की एक दिल छू लेने वाली कहानी के साथ सामने आए हैं। इस पर प्यार की अपनी सोच को साझा करते हुए उन्होंने कहा, अगर दो आत्माओं के संबंध को एक मूर्त रूप लेना होता, तो यह प्रेम के जरिए से खुद को मूर्त रूप देता।

उन्होंने कहा, मेरे लिए, वास्तव में यही प्यार है जब किसी को बाधाओं और भेदभाव से परे, बिना किसी शर्त के स्वीकार किया जाता है कि वे कौन हैं। उस बिना शर्त प्यार को समेट कर और उसका सम्मान करती है, जिसे हम स्वाभाविक रूप से रिश्ते की प्रकृति के बावजूद तलाशते हैं। यह प्यार करने का एक आदर्श है, जो लेबल के बोझ और अनुरूप होने के दबाव से मुक्त है।

Latest Web Story

Latest 20 Post