Home / Articles / MaharashtraPoliticalCrisis: मुख्यमंत्री निवास 'वर्षा' छोड़ मातोश्री पहुंचे CM उद्धव ठाकरे, उमड़ा समर्थकों का हुजूम

MaharashtraPoliticalCrisis: मुख्यमंत्री निवास 'वर्षा' छोड़ मातोश्री पहुंचे CM उद्धव ठाकरे, उमड़ा समर्थकों का हुजूम

MaharashtraPoliticalCrisis: मुख्यमंत्री निवास 'वर्षा' छोड़ मातोश्री पहुंचे CM उद्धव ठाकरे, उमड़ा समर्थकों का हुजूम   Image
  • Posted on 22nd Jun, 2022 18:06 PM
  • 1267 Views

मुंबई। शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे के विद्रोह के बीच शीर्ष पद छोड़ने की पेशकश के कुछ घंटों बाद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे बुधवार रात दक्षिण मुंबई के अपने आधिकारिक आवास से उपनगरीय बांद्रा स्थित पारिवारिक आवास ‘मातोश्री’ पहुंच गए। यहां शिवसैनिकों ने उनका जमकर स्वागत किया। - Maharashtra CM Uddhav Thackeray reaches 'Matoshree' after leaving CM residence id="ram"> पुनः संशोधित बुधवार, 22 जून 2022 (23:11 IST) हमें फॉलो करें मुंबई। शिवसेना नेता

पुनः संशोधित बुधवार, 22 जून 2022 (23:11 IST)
हमें फॉलो करें
मुंबई। शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे के विद्रोह के बीच शीर्ष पद छोड़ने की पेशकश के कुछ घंटों बाद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे बुधवार रात दक्षिण मुंबई के अपने आधिकारिक आवास से उपनगरीय बांद्रा स्थित पारिवारिक आवास ‘मातोश्री’ पहुंच गए। यहां शिवसैनिकों ने उनका जमकर स्वागत किया।
ALSO READ:

शरद पवार के खिलाफ आपत्तिजनक पोस्ट मामले में मराठी अभिनेत्री केतकी चिताले को जमानत
2 दिन पहले शिंदे के विद्रोह के कारण उनकी सरकार के समक्ष उत्पन्न राजनीतिक संकट के बीच ठाकरे अपने आधिकारिक आवास 'वर्षा' से परिवार के निजी बंगले ‘मातोश्री’ चले गए। जब ठाकरे सरकारी आवास से बाहर निकल रहे थे तब नीलम गोरहे और चंद्रकांत खैरे जैसे शिवसेना नेता वहां मौजूद थे। जब वह अपने परिवार के सदस्यों के साथ अपने आधिकारिक घर से रात 9 बजकर 50 मिनट पर निकले तो पार्टी कार्यकर्ताओं ने नारे लगाए और मुख्यमंत्री पर पंखुड़ियों की बारिश की। इससे पहले उनके निजी सामान से भरे बैग को कई कार में लादते हुए देखा गया था।
शाम को 'फेसबुक लाइव' में ठाकरे ने कहा था कि वे 'वर्षा' छोड़कर 'मातोश्री' में रहेंगे। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे नवंबर 2019 में मुख्यमंत्री बनने के बाद 'वर्षा' में रहने चले गए थे। हालांकि, शिवसेना के मुख्य प्रवक्ता संजय राउत ने कहा कि पार्टी विधायकों के एक वर्ग द्वारा विद्रोह के बावजूद ठाकरे इस्तीफा नहीं देंगे और आवश्यकता होने पर सत्ताधारी महाविकास आघाड़ी (MVA) गठबंधन विधानसभा में अपना बहुमत साबित करेगा। राकांपा और कांग्रेस भी एमवीए का हिस्सा हैं।
4 शिवसैनिक गुवाहाटी पहुंचे : महाराष्ट्र के चार विधायकों के साथ एक और चार्टर्ड विमान बुधवार को यहां पहुंचा। वे लोग दिन में गुवाहाटी पहुंचे शिवसेना के बागी विधायकों के साथ शामिल होंगे। सूत्रों ने यह जानकारी दी। चार विधायक-- चंद्रकांत पाटिल, योगेश कदम, मंजुला गावित और गुलाबराव पाटिल--गुजरात के सूरत से (महाराष्ट्र के) उन अन्य विधायकों की तरह यहां पहुंचे, जो महाराष्ट्र के मंत्री एकनाथ शिंदे के साथ सुबह में यहां आए थे।

सूत्रों ने बताया कि महाराष्ट्र के चार और विधायक एक चार्टर्ड विमान से यहां पहुंचे। उन्हें शहर के उस होटल ले जाया गया, जहां अन्य विधायकों को ठहराया गया है। गावित और चंद्रकांत पाटिल निर्दलीय विधायक हैं, जबकि कदम और गुलाबराव पाटिल शिवसेना विधायक हैं। सूत्रों ने बताया कि ये चारों विधायक बुधवार को सूरत पहुंचे थे और बाद में उन्होंने गुवाहाटी के लिए उड़ान भरी। गुलाबराव पाटिल, उद्धव ठाकरे नीत महाराष्ट्र सरकार में जलापूर्ति एवं स्वच्छता मंत्री हैं। वह बागवानी मंत्री संदीपल भुमरे के बाद शिंदे के खेमे में शामिल होने वाले दूसरे कैबिनेट मंत्री हैं।

महाराष्ट्र के बागी विधायकों का एक समूह शिंदे के नेतृत्व में बुधवार सुबह गुवाहाटी पहुंचा। उन्हें मंगलवार को मुंबई से सूरत ले जाया गया था और बुधवार तड़के उन्हें गुवाहाटी भेज दिया गया। सुबह पहुंचे विधायकों में एक नितिन देशमुख कुछ घंटे बाद एक चार्टर्ड विमान से नागपुर रवाना हो गए। देशमुख ने बाद में कहा कि वे शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के साथ हैं।

MaharashtraPoliticalCrisis: मुख्यमंत्री निवास 'वर्षा' छोड़ मातोश्री पहुंचे CM उद्धव ठाकरे, उमड़ा समर्थकों का हुजूम View Story

Latest Web Story

Latest 20 Post