Home / Articles / बनते काम बिगड़ रहे हैं तो करें लाल किताब के 5 अचूक उपाय

बनते काम बिगड़ रहे हैं तो करें लाल किताब के 5 अचूक उपाय

Lal kitab ke upay : गरीबी सता रही है, बुरी लत लग गई है, आपके काम अटके पड़े हैं, कोई भी काम नहीं बन रहा है या बनते काम बिगड़ते जा रहे हैं तो आप लाल किताब के निम्नलिखित पांच उपाय करके अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं। - Lal kitab ke upay id="ram"> पुनः संशोधित शनिवार, 14 मई 2022 (12:54 IST) Lal kitab ke upay : गरीबी सता रही है, बुरी लत लग गई है,

  • Posted on 14th May, 2022 13:30 PM
  • 1303 Views
बनते काम बिगड़ रहे हैं तो करें लाल किताब के 5 अचूक उपाय   Image
पुनः संशोधित शनिवार, 14 मई 2022 (12:54 IST)
Lal kitab ke upay : गरीबी सता रही है, बुरी लत लग गई है, आपके काम अटके पड़े हैं, कोई भी काम नहीं बन रहा है या बनते काम बिगड़ते जा रहे हैं तो आप लाल किताब के निम्नलिखित पांच उपाय करके अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं।


लाल किताब के अचूक 43 दिन के उपाय (lal kitab ke upay) :
1. सबसे पहले तो अपने कर्म सुधारे और शनि, राहु और केतु के मंदे कार्य न करें। जैसे, शराब पीना, ब्याज का धंधा करना, पराई महिला पर बुरी नजर रखना, गृह कलेश करना आदि।

2. 43 दिन तक गुड़ और गेहूं का दान दें और उसके बाद अगले 3 वर्षों तक गुड़ और गेहूं का रविावार को मंदिर में दान देते रहें।

3. यदि शनि 7वें और चंद्र एवं मंगल तीसरे, पांचवें या सातवें भाव में एकत्रित हों तो 43 दिन तक हलवे में दूध मिलाकर मंदिर में बांटे और अगले तीन वर्षों तक हर मंगलवार को मंदिर में हलवा बांटें।
4. यदि सातवें भाव में शनि विराजमान हैं और चंद्रमा अकेले तीसरे, पांचवें या सातवें भाव में हो तो ऐसी अवस्था में चावल में दूध मिलाकर 43 दिन तक दान करें और इसके बाद अगले 3 वर्षों तक हर सोमवार को मंदिर में दान करें।

5. प्रतिदिन हनुमान चालीसा पढ़ें और मंगलवार एवं शनिवार को उनके मंदिर में जाकर चमेली के तेल का दीपक जलाएं और उन्हें सिंदूर अर्पित करें। तीन वर्ष तक यह क्रम जारी रहना चाहिए।
नोट : 43 दिन में संकट का समाधान होना प्रारंभ होता है और 3 साल में सभी कुछ पहले जैसा हो जाता है, परंतु इसके लिए आप किसी विशेषज्ञ को अपनी कुंडली दिखाकर ही ये उपाय कर सकते हैं।

Latest Web Story

Latest 20 Post