Home / Articles / Sandes App में कितना सुरक्षित है यूजर्स का डेटा, जानें क्या WhatsApp को दे पाएंगा टक्कर?

Sandes App में कितना सुरक्षित है यूजर्स का डेटा, जानें क्या WhatsApp को दे पाएंगा टक्कर?

केंद्र सरकार जल्द ही सरकारी इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप Sandes को लॉन्च कर सकती है। सरकार की यह ऐप फिलहाल टेस्टिंग स्टेज में है। इस ऐप को WhatsApp का विकल्प बताया जा रहा है। यहां हम आपको बता रहे हैं कि Sandes ऐप कितनी सुरक्षित है। इसके साथ ही यह भी जानें कि ऐप यूजर का इतना डाटा कलेक्ट करती है। केंद्र सरकार का इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप Sandes इन दिनों सुर्खियों में है। फिलहाल इस सरकारी

  • Posted on 04th Sep, 2021 05:11 AM
  • 1196 Views
Sandes App में कितना सुरक्षित है यूजर्स का डेटा, जानें क्या WhatsApp को दे पाएंगा टक्कर? Image

केंद्र सरकार का इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप Sandes इन दिनों सुर्खियों में है। फिलहाल इस सरकारी मैसेजिंग ऐप की टेस्टिंग चल रही है। Sandes app को पॉपुलर मैसेजिंग ऐप WhatsApp का विकल्प बताया जा रहा है। केंद्र सरकार इस ऐप को कब लॉन्च करेगी इसे लेकर अभी तक कोई जानकारी सामने नहीं आई हैं लेकिन यह ऐप लाइव हो गई है। Android यूजर्स इस ऐप को APK Link के जरिए डाउनलोड कर सकते हैं, तो iOS यूजर्स सीधे App Store से डाउनलोड कर सकते हैं। Also Read - WhatsApp पर लगा 1952 करोड़ रुपये से ज्यादा का फाइन, जानिए क्या है वजह

Sandes app पर कई फीचर्स WhatsApp जैसे हैं। इस ऐप के जरिए यूजर्स टेक्स्ट, वॉइस और वीडियो कॉल कर सकते हैं। इसके साथ ही यूजर्स ग्रुप भी क्रिएट कर सकते हैं। इसके साथ ही कई फीचर्स ऐसे भी है जो व्हाट्सऐप पर नहीं मिलते हैं। Also Read - WhatsApp पर छिपाना चाहते हैं अपना लास्ट सीन और हटाने हैं ब्लू टिक? जानें तरीका

कितना सुरक्षित है Sandes app

सरकारी मैसेजिंग प्लेटफॉर्म Sandes पर यूजर्स की प्राइवेसी की बात करें तो Apple App स्टोर में डेवलपर्स का कहना है कि वह यूजर्स का कॉन्टेक्ट इंफॉर्मेशन, नाम, कंट्री कोड, जेंडर, प्रोफाइल फोटो, डेट ऑफ बर्थ जैसे जानकारी कलेक्ट करता है। डेवलपर्स का कहना है कि यह डेटा भारत सरकार के सर्वर में स्टोर रहता है। इसके साथ ही सभी मैसेज एंड टू एंड इन्क्रिप्शन से प्रोटेक्टेड रहते हैं, यानी सरकार यूजर्स के मैसेज स्टोर नहीं करती है। Also Read - Telegram App ने पार किया एक अरब डाउनलोड का आंकड़ा, WhatsApp को मिली कड़ी टक्कर

प्राइवेसी पॉलिसी में यह साफ कहा है कि यूजर्स का डाटा किसी किसी भी थर्ड पार्टी के साथ न शेयर किया जाएगा और न ही बेचा जाएगा। हालांकि यहां यह जरूर कहा गया है कि इसे सरकारी एजेंसियों या कोर्ट के साथ शेयर किया जाएगा।

Sandes ऐप में फिलहाल फिंगरप्रिंट लॉक फीचर या स्क्रीन लॉक फीचर नहीं मिलता है। लेकिन इस मैसेजिंग ऐप में दूसरे प्राइवेसी फीचर्स जैसे इनकॉग्निटो की-बोर्ड मोड, स्क्रीन सिक्योरिटी जैसे फीचर भी मिलते हैं। यही फीचर आपको Signal App पर मिलते हैं। इसके साथ ही सिग्नल ऐप की तरह आपको Sandes में यह पता नहीं चलता है कि भेजा गया मैसेज कब पढ़ा गया है।

Sandes App में कितना सुरक्षित है यूजर्स का डेटा, जानें क्या WhatsApp को दे पाएंगा टक्कर? View Story

Latest 20 Post