Home / Articles / Google के नए नियम ने कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स को कर दिया खत्म, 11 मई से नहीं करेंगे फोन में काम

Google के नए नियम ने कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स को कर दिया खत्म, 11 मई से नहीं करेंगे फोन में काम

सवाल यह उठता है कि क्या गूगल डायलर में मौजूद कॉल रिकॉर्डिंग का फीचर काम करेगा? अगर फोन में पहले से रिकॉर्डिंग ऐप मौजूद है तो क्या यह काम करेगा? आइए इन्हीं सभी सवालों पर नजर डालते हैं। Google ने प्ले स्टोर पॉलिसी में कुछ बदलाव किए हैं, जो बुधवार, 11 मई 2022 से लागू होंगे। इन बदलाव के

  • Posted on 12th May, 2022 17:10 PM
  • 1008 Views
Google के नए नियम ने कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स को कर दिया खत्म, 11 मई से नहीं करेंगे फोन में काम Image

Google ने प्ले स्टोर पॉलिसी में कुछ बदलाव किए हैं, जो बुधवार, 11 मई 2022 से लागू होंगे। इन बदलाव के तहत कंपनी प्लैटफॉर्म पर सभी थर्ड-पार्टी कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स बैन कर रही है। इसका मतलब है कि 11 मई से गूगल प्ले स्टोर पर कोई भी कॉल रिकॉर्डिंग ऐप मौजूद नहीं होगा। Also Read - Google ने की कई सिक्योरिटी फीचर्स की घोषणा, इंटरनेट यूज करना होगा सुरक्षित

गूगल प्ले स्टोर की नई पॉलिसी सिर्फ थर्ड-पार्टी ऐप्स पर लागू होगी। ऐसे में सवाल यह उठता है कि क्या गूगल डायलर में मौजूद कॉल रिकॉर्डिंग का फीचर काम करेगा? अगर फोन में पहले से रिकॉर्डिंग ऐप मौजूद है तो क्या यह काम करेगा? आइए इन्हीं सभी सवालों पर नजर डालते हैं। Also Read - Google Translate में जुड़ी 24 नई भाषाएं, इसमें भोजपुरी और असमी भी हैं शामिल

Google Play Store से गायब हो जाएंगे थर्ड-पार्टी कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स

गूगल ने कुछ वक्त पहले नई प्ले स्टोर पॉलिसी का अनाउन्समेंट किया था। इसके तहत प्ले से थर्ड-पार्टी कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स हटा दी जाएंगी। यह नियम 11 मई से लागू होगा। यूजर्स को बुधवार से गूगल प्ले पर कोई भी कॉल रिकॉर्डिंग ऐप नजर नहीं आएगा। Also Read - 6GB RAM और 128GB स्टोरेज और Live Translate फीचर के साथ लॉन्च हुआ Google Pixel 6A, यहां देखें कितना मस्त है इसका फर्स्ट लुक

गूगल की नई पॉलिसी के अनाउन्समेंट के बाद Truecaller ऐप ने अपने कॉल रिकॉर्डिंग फीचर को बंद करने का ऐलान किया था। कंपनी ने बताया कि इन्हें यह कदम Google Developer Program की अपडेटिड पॉलिसी के चलते उठाना पड़ा है।

डिफॉल्ट डायलर ऐप में रिकॉर्डिंग जारी रहेगी

गूगल के डिफॉल्ट डाइलर ऐप में मौजूद कॉल रिकॉर्डिंग का फीचर जारी रहेगा। जहां बाकी रिकॉर्डर ऐप्स सामने वाले यूजर को बिना बताए कॉल रिकॉर्डिंग शुरू कर देते हैं, गूगल के ऐप में मौजूद रिकॉर्डिंग फीचर को इस्तेमाल करने पर कॉल पर मौजूद दोनों लोगों को यह आवाज सुनाई देती है— This call is now being recorded (यह कॉल अब रिकॉर्ड हो रही है)।

इसी तरह अगर आपके फोन में मौजूद डिफॉल्ट डायलर ऐप भी कॉल रिकॉर्डिंग का ऑप्शन देता है तो यह फीचर पहले की तरह ही काम करता रहेगा।

क्या फोन में पहले से मौजूद थर्ड-पार्टी कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स काम करेंगे?

गूगल की नई प्ले स्टोर पॉलिसी उन ऐप्स को टारगेट करती है जो ऐंड्रॉइड ऐक्सेसिबिलिटी APIs को नॉन-ऐक्सेसिबिलिटी कारणों से इस्तेमाल करते हैं। नई पॉलिसी के मुताबिक, गूगल ऐक्सेसिबिलिटी APIs की मदद से कोई भी थर्ड-पार्टी ऐप कॉल रिकॉर्ड नहीं कर पाएगा।

इसका मतलब है कि अगर आपके फोन में कोई थर्ड-पार्टी ऐप पहले से इंस्टॉल है तो यह काम करना बंद कर देगा। यही हाल किसी थर्ड-पार्टी स्टोर से डाउनलोड होने वाले कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स का भी होगा।

Google के नए नियम ने कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स को कर दिया खत्म, 11 मई से नहीं करेंगे फोन में काम View Story

Latest 20 Post