Home / Articles / भारत में ओमिक्रॉन के सब वैरिएंट BA.4 का पहला केस मिला, जानें कितना घातक है ये स्ट्रेन...

भारत में ओमिक्रॉन के सब वैरिएंट BA.4 का पहला केस मिला, जानें कितना घातक है ये स्ट्रेन...

देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) कोविड-19 के ओमिक्रॉन (Omicron) वैरिएंट के BA.4 सब वेरिएंट ने आखिर दस्तक दे दी है। इस वैरिएंट का पहला मामला हैदराबाद में मिला है।गौरतलब है कि हालिया रिपोर्ट्स में वैज्ञानिकों ने ओमिक्रॉन के नए सब वैरिएंट BA.4 को लेकर सचेत किया है। - First case of Omicron sub variant BA4 detected in India id="ram"> पुनः संशोधित गुरुवार, 19 मई 2022 (22:11 IST) देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) कोविड-19 के

  • Posted on 19th May, 2022 17:20 PM
  • 1366 Views
भारत में ओमिक्रॉन के सब वैरिएंट BA.4 का पहला केस मिला, जानें कितना घातक है ये स्ट्रेन...   Image
पुनः संशोधित गुरुवार, 19 मई 2022 (22:11 IST)
देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) के (Omicron) वैरिएंट के BA.4 सब वेरिएंट ने आखिर दस्तक दे दी है। इस वैरिएंट का पहला मामला हैदराबाद में मिला है।गौरतलब है कि हालिया रिपोर्ट्स में वैज्ञानिकों ने ओमिक्रॉन के नए सब वैरिएंट BA.4 को लेकर सचेत किया है।
खबरों के अनुसार, कोविड-19 जिनोमिक सर्विलांस प्रोग्राम से गुरुवार को इस बात का पता चला। भारतीय SARS-CoV-2 कंसोर्टियम ऑन जीनोमिक्स (INSACOG) से जुड़े वैज्ञानिकों का कहना है कि भारत से, BA.4 सब वैरिएंट का विवरण GISAID पर 9 मई को दर्ज किया गया था।

हालिया रिपोर्ट्स में वैज्ञानिकों ने ओमिक्रॉन के नए सब-वैरिएंट BA.4 को लेकर सचेत किया है। यह नया वैरिएंट कई तरह की नई स्वास्थ्य समस्याओं को जन्म दे सकता है। इतना ही नहीं यह प्राकृतिक और टीकाकरण दोनों से बनी प्रतिरक्षा को आसानी से मात देने वाला भी हो सकता है।

हालांकि वैज्ञानिकों का मानना है कि इस साल जनवरी में भारत में आई ओमिक्रॉन वैरिएंट की लहर के कारण भारतीय आबादी में बेहतर और व्यापक इम्युन रिस्पॉन्स देखने को मिला, जिससे संक्रमण की संभावना कम है।

नेशनल सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल से जुड़े अधिकारी के मुताबिक, आने वाले दिनों में कोरोना के मामलों में ज्यादा उछाल की उम्मीद नहीं है और इस बात की संभावना बहुत कम है कि गंभीर कोरोना के कारण अस्पताल में भर्ती होने की संख्या में तेजी से वृद्धि होगी।

Latest Web Story

Latest 20 Post