बांध को बचाने की जंग, आधी रात से पानी की निकासी शुरू, सेना अलर्ट

बांध को बचाने की जंग, आधी रात से पानी की निकासी शुरू, सेना अलर्ट   Image
  • Posted on 14th Aug, 2022 04:06 AM
  • 1455 Views

मध्य प्रदेश के धार जिले में कारम नदी पर बने बांध में पिछले 3 दिन से हो रहे पानी के रिसाव से 40 हजार लोगों की जिंदगी पर खतरा मंडरा रहा है। देर रात बांध की बगल में बनाई गई चैनल से पानी की निकासी शुरू कर दी गई है। इससे बांध के टूटने का खतरा कम हुआ है। - fight to save dam in dhar id="ram"> पुनः संशोधित रविवार, 14 अगस्त 2022 (08:54 IST) हमें फॉलो करें धार। मध्य प्रदेश के धार

पुनः संशोधित रविवार, 14 अगस्त 2022 (08:54 IST)
हमें फॉलो करें
धार। मध्य प्रदेश के जिले में कारम नदी पर बने में पिछले 3 दिन से हो रहे पानी के रिसाव से 40 हजार लोगों की जिंदगी पर खतरा मंडरा रहा है। राहत और बचाव के लिए सेना, NDRF, SDRF को तैनात किया गया है। आसपास के गांव खाली कराए गए हैं। इस बीच देर रात बांध की बगल में बनाई गई चैनल से पानी की निकासी शुरू कर दी गई है। इससे बांध के टूटने का खतरा कम हुआ है।

303 करोड़ की लागत से कोठड़ा भारुड़पुरा में बने इस बांध के फूटने की आशंका है। यहां करीब 4 जगह से रिसाव हो रहा है। बांध में हो रहे रिसाव की वजह से आसपास के गांवों में दहशत का माहौल है। धार जिले के 12 और खरगोन जिले के 6 गांव खाली कराए गए हैं। धार-धामनोद समेत कई मार्गों पर आवाजाही बंद कर दी गई है।

मुख्‍यमंत्री शिवराज खुद स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत भी रिसाव और रेस्क्यू ऑपरेशन के संबंध में मुख्यमंत्री शिवराज से बात कर चुके हैं।


इस बीच बांध को लेकर राजनीति भी शुरू हो गई हैं। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने भी मामले की जांच के लिए 8 सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया है। नर्मदा बचाओ आंदोलन की नेता मेधा पाटकर भी मौके पर पहुंची। उन्होंने बांध निर्माण में भ्रष्चार के आरोप लगाए गए हैं।

इस बीच सीएम शिवराज ने धार कलेक्टर से कहा कि जीवन में कभी कभी ऐसे अवसर आते हैं जब हमें सारी कठिनाइयों से लड़ना होता है। हमें अपनी बुद्धिमता का उपयोगी कर सबकी रक्षा करना है।

बांध को बचाने की जंग, आधी रात से पानी की निकासी शुरू, सेना अलर्ट View Story

Latest Web Story

Latest 20 Post