Home / Articles / IPL है या मजाक, बिजली ना होने के कारण चेन्नई का ओपनर नहीं ले पाया रिव्यू, ट्विटर पर उड़ी खिल्ली

IPL है या मजाक, बिजली ना होने के कारण चेन्नई का ओपनर नहीं ले पाया रिव्यू, ट्विटर पर उड़ी खिल्ली

चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) को इंडियन प्रीमियर लीग मैच में मुंबई इंडियन्स के खिलाफ शुरुआती 1.4 ओवर में गुरुवार को यहां बिजली गुल होने के कारण निर्णय समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) उपलब्ध नहीं होने के कारण डेवोन कोनवे के विकेट के रूप में खामियाजा भुगतना पड़ा। - Devon conway denied a DRS due to derliction from discom id="ram"> Last Updated: गुरुवार, 12 मई 2022 (23:27 IST) मुंबई:चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) को इंडियन

  • Posted on 12th May, 2022 18:10 PM
  • 1372 Views
IPL है या मजाक, बिजली ना होने के कारण चेन्नई का ओपनर नहीं ले पाया रिव्यू, ट्विटर पर उड़ी खिल्ली   Image
Last Updated: गुरुवार, 12 मई 2022 (23:27 IST)
मुंबई:चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) को इंडियन प्रीमियर लीग मैच में मुंबई इंडियन्स के खिलाफ शुरुआती 1.4 ओवर में गुरुवार को यहां बिजली गुल होने के कारण निर्णय समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) उपलब्ध नहीं होने के कारण डेवोन कोनवे के विकेट के रूप में खामियाजा भुगतना पड़ा।

वानखेड़े स्टेडियम में खेले गये इस मैच में सलामी बल्लेबाज डेवोन कोनवे (शून्य) और रॉबिन उथप्पा (एक) क्रमश: डेनियल सैम्स और जसप्रीत बुमराह की गेंद पर पगबाधा आउट हुए और चेन्नई की टीम नहीं ले सकी। उथप्पा के पवेलियन लौटने के बाद अंपायरों ने डीआरएस के उपलब्ध होने बारे में बताया।

शॉट सर्किट के कारण डीआरएस उपलब्ध नहीं था। कोनवे के आउट होने के बाद टेलीविजन रीप्ले में दिखा की गेंद काफी अंतर से लेग स्टंप के दूर से निकल रही थी।इस बिजली कटौती के लिए न तो मुंबई क्रिकेट संघ और न ही भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने आधिकारिक रूप से कुछ बताया।

बीसीसीआई के एक सूत्र ने कहा कि ‘शॉर्ट-सर्किट’ बिजली आपूर्ति करने वाले एक ‘ आउटलेट’ में से एक में हुआ था जो सीधे डीआरएस प्रणाली से जुड़ा था। बिजली कटौती के कारण शुरू में डीआरएस का इस्तेमाल नहीं किया जा सका।उन्होंने कहा, ‘‘ सामान्य स्थिति बहाल होने के बाद डीआरएस प्रणाली को शुरूआती 10 गेंद के बाद फिर से लागू कर दिया गया।’’

कोनवे डीआरएस का इस्तेमाल करके बच सकते थे लेकिन उथप्पा साफ आउट थे।पहले ओवर में ही चेन्नई को यह ऐसा बड़ा झटका लगा कि टीम संभल ही नहीं पायी और 97 पर ऑल आउट हो गई। इसका खामियाजा टीम को टूर्नामेंट से बाहर होकर गुजारना पड़ा क्योंकि मुंबई अंत में यह मैच जीतने में सफल रही। इस घटना को लेकर कुछ ऐसे मीम्स देखे गए।
गौरतलब है कि अपने पिछले तीन मैचों में डेवॉन कॉन्वे ने 87, 56 और 85 का स्कोर बनाकर वह शानदार लय में नज़र आए थे। ख़ासकर स्पिन के विरुद्ध वह आग बनकर बरसे थे। स्पिन के ख़िलाफ़ उन्होंने 196.55 के स्ट्राइक रेट से 114 रन बनाए थे। डेवोन कोंवे ने 4 मैचों में 231 रन बनाए थे। आज भी चेन्नई को उनसे ऐसी ही शुरुआत की उम्मीद थी लेकिन किस्मत को कुछ और ही मंजूर था।

टॉस में भी फ्लड लाइट ने दी दिक्कत

एमसीए के एक अधिकारी के अनुसार, एक तकनीकी खराबी के कारण टॉस में देरी हुई, जब एक फ्लड-लाइट टावरों की बिजली आपूर्ति में समस्या आयी।इस अधिकारी ने कहा, "जहां तक फ्लड लाइट की समस्या का सवाल है, हमने उसे तुरंत ठीक कर दिया था। ’’

Latest Web Story

Latest 20 Post