Home / Articles / लुटेरी बेटी! शादी के 10वें दिन ससुराल से लौटी लड़की मायके से सोना-चांदी लेकर भागी

लुटेरी बेटी! शादी के 10वें दिन ससुराल से लौटी लड़की मायके से सोना-चांदी लेकर भागी

छतरपुर। छतरपुर में एक मां ने एसपी ऑफिस पहुंच आवेदन दिया है कि उसकी अपनी ही बेटी जिसकी कुछ समय पहले ही शादी हुई थी, मायके और ससुराल से सोना-चांदी और जेवर समेटकर भाग गई। मां का कहना है कि हमने 'लुटेरी दुल्हनों' के बारे में तो सुना था, लेकिन यहां तो हमारी बेटी ने अपनी ससुराल के साथ हमें भी लूट लिया। - daughter ran away with jewelery worth lakhs id="ram"> कीर्ति राजेश चौरसिया| Last Updated: मंगलवार, 10 मई 2022 (19:40 IST) छतरपुर। छतरपुर में एक

  • Posted on 10th May, 2022 14:25 PM
  • 1029 Views
लुटेरी बेटी! शादी के 10वें दिन ससुराल से लौटी लड़की मायके से सोना-चांदी लेकर भागी   Image
Author कीर्ति राजेश चौरसिया| Last Updated: मंगलवार, 10 मई 2022 (19:40 IST)
छतरपुर। छतरपुर में एक मां ने एसपी ऑफिस पहुंच आवेदन दिया है कि उसकी अपनी ही बेटी जिसकी कुछ समय पहले ही शादी हुई थी, मायके और से सोना-चांदी और जेवर समेटकर भाग गई। मां का कहना है कि हमने 'लुटेरी दुल्हनों' के बारे में तो सुना था, लेकिन यहां तो हमारी बेटी ने अपनी ससुराल के साथ हमें भी लूट लिया।

छतरपुर में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है, जहां अपनी मनपसंद शादी करने के बाद भी बेटी 10वें दिन में अपनी ससुराल और 15वें दिन अपना मायका छोड़कर और लूटकर किसी और के साथ भाग गई। ऐसा हम नहीं एसपी ऑफिस पहुंची पीड़िता और लड़की की मां कह रही है जिसने बाकायदा एसपी ऑफिस में आवेदन दिया हुआ है कि उसकी बेटी को ढूंढा और गिरफ्तार किया जाए और उससे ससुराल और मायके का लूट हुआ सामान, सोना, चांदी, जेवर व नकदी दिलाए जाएं।
छतरपुर एसपी आफिस पहुंची मां कमला प्रजापति पति धनीराम अनुरागी बताती हैं कि वे छतरपुर जिले के गौरिहार थाना के बेनीपुर गांव के रहने वाले हैं। जो मेहनत-मजदूरी, खेती-पाती कर अपना अपने परिवार का जीवन-यापन करते हैं। उनकी 5 बेटियां हैं और 22 वर्षीय संध्या सबसे बड़ी बेटी है, जो कि 11वीं तक पढ़ी है।

22 वर्षीय संध्या की शादी उसकी मर्जी और पसंद से पड़ोसी राज्य उत्तरप्रदेश के बांदा जिले के बबेरू थाने के ग्राम कायल में तय कर की थी। जहां 20 अप्रैल 2022 को बड़े ही धूमधाम से शादी की। 21 अप्रैल को बिदा किया। वह ससुराल गई, जहां ससुराल से 29 अप्रेल को अपने मायके वापस आई और 4 मई को अपनी बुआ के घर जाने का कहकर 12 बजे निकल गई और शाम 5 बजे तक वापस नहीं लौटी और उसका मोबाइल लगाया तो बंद बताया।
घर में देखा तो वह अपनी शादी और ससुराल के जेवर, मायके के सोना-चांदी, जेवर, नकदी, पैसा, एलआईसी की पॉलिसी, अपना आधार, परिचय पत्र, मार्कशीट आदि सभी सामान लेकर भाग गई है। मामले की थाने में रिपोर्ट की तो उन्होंने गुमशुदगी की शिकायत दर्ज की है। हमारी बेटी को गायब हुए 5 दिन हो गए हैं और उसका कोई पता नहीं चल रहा। ससुराल में पता किया तो वहां भी नहीं पहुंची।
अब उसके ससुराली भी उसे ढूंढने में लगे हुए हैं और यहां हम। अब तो ससुराली आरोप लगा रहे हैं कि तुमने अपनी बेटी के साथ मिलकर भगवाया है और हमें लुटवा दिया। वे हमारी रिपोर्ट करने की धमकी दे रहे हैं कि तुमने बेटी के साथ मिलकर हमें लूटा है। अब हम उन्हें कैसे बताएं कि हमारी बेटी ने उन्हें (ससुराल को) ही नहीं बल्कि हमें अपने मायके को भी लूट लिया और वह किसी और के साथ भाग गई है।

कमला कहती हैं कि मैंने अपनी बेटी से पूछकर उसकी पसंद से शादी की थी, बाकायदा शादी के पहले उसे लड़का दिखाया था। जब लड़का देखकर उसने हां कर दिया था तभी हमने उसकी शादी की। अगर उसे भागना ही था तो शादी क्यों की? मेरे लाखों रुपए और इज्जत दोनों बर्बाद कर दी और अब मेरी 4 बेटियों का क्या होगा?
कमला की मानें तो उन्हें उत्तरप्रदेश के कन्नौज जिले के बरुआ-तिरुआ निवासी 25 वर्षीय उमेश राजपूत पर शक है कि वह उनकी बेटी को भगाकर ले गया है। अगर उसे गिरफ्तार किया जाए तो उनकी बेटी मिल जाएगी। कमला का कहना है कि एक बार हमारी बेटी वापस आ जाए और हम ससुरालियों के सामने बेकसूर साबित हो जाएं ताकि हम पर बेटी के साथ उन्हें लूटने के जो आरोप लग रहे हैं, वे झूठे साबित हो जाएं।

Latest Web Story

Latest 20 Post