Home / Articles / संक्रमण का इतना खतरा, फि‍र भी ब्रिटेन में क्‍यों घटाया जा रहा Isolation Period, क्‍या है वजह?

संक्रमण का इतना खतरा, फि‍र भी ब्रिटेन में क्‍यों घटाया जा रहा Isolation Period, क्‍या है वजह?

संक्रमण का इतना खतरा, फि‍र भी ब्रिटेन में क्‍यों घटाया जा रहा Isolation Period, क्‍या है वजह?   Image
  • Posted on 15th Jan, 2022 10:00 AM
  • 1198 Views

अटलांटिक महासागर के दूसरी ओर ‘यूएस सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन’ ने कहा कि ओमिक्रॉन वेरिएंट के बारे में जितनी जानकारी उपलब्ध है, उसे देखते हुए वे आइसोलेशन के टाइम को बदलकर पांच दिन करने वाले हैं। id="ram"> Last Updated: शनिवार, 15 जनवरी 2022 (14:05 IST) ओमिक्रॉन वेरिएंट का मामला सामने आने से पहले

Last Updated: शनिवार, 15 जनवरी 2022 (14:05 IST)
ओमिक्रॉन वेरिएंट का मामला सामने आने से पहले ब्रिटेन में कोविड-19 के लक्षण वाले या संक्रमित लोग 10 दिनों के लिए क्वारंटीन में रहते थे लेकिन नए वेरिएंट के सामने आने के बाद सरकार ने होम आइसोलेशन की अवधि को सात दिन कर दिया है।

अटलांटिक महासागर के दूसरी ओर ‘यूएस सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन’ ने कहा कि ओमिक्रॉन वेरिएंट के बारे में जितनी जानकारी उपलब्ध है, उसे देखते हुए वे आइसोलेशन के टाइम को बदलकर पांच दिन करने वाले हैं।

ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री साजिद जाविद ने कहा है कि कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए लोगों के लिए अब इंग्लैंड में आइसोलेशन की अवधि पांच दिनों की होगी, जबकि ब्रिटेन के अन्य क्षेत्रों के बारे में स्थिति स्पष्ट नहीं है।

इंग्लैंड में 17 जनवरी से संक्रमित लोग पांच दिनों के बाद दो बार जांच कराने और निगेटिव रिपोर्ट आने के बाद आइसोलेशन की अवधि से बाहर निकल सकेंगे। टीकाकरण की स्थिति की परवाह किए बिना नियम समान हैं।

यूनिवर्सिटी ऑफ ईस्ट लंदन में मेडिकल माइक्रोबायोलॉजी की प्रोफेसर सैली कटलर ने कहा, मेडिकल माइक्रोबायोलॉजिस्ट के तौर पर हमें इस बात की चिंता है कि आइसोलेशन की अवधि घटाने संबंधी इन कदमों को सही ठहराने के लिए बहुत कम वैज्ञानिक प्रमाण हैं।

कुछ लोगों का तर्क है कि ओमिक्रॉन से बीमारी की गंभीरता ‘कम’ है। इसलिए यहां आइसोलेशन की अवधि‍ को घटाने पर चर्चाएं चल रही हैं।

संक्रमण का इतना खतरा, फि‍र भी ब्रिटेन में क्‍यों घटाया जा रहा Isolation Period, क्‍या है वजह? View Story

Latest 20 Post