Home / Articles / Coronavirus का कोई असर MWC 2020 पर नहीं होगा : GSMA

Coronavirus का कोई असर MWC 2020 पर नहीं होगा : GSMA

बार्सिलोना में विश्व का सबसे बड़ा एनुअल टेलीकॉम इंडस्ट्री इवेंट - मोबाइल वर्ल्ड कांग्रेस 2020 (Mobile World Congress 2020) आयोजित होना है। बार्सिलोना में आयोजित होने वाले इवेंट में चीन में फैले कोरोना वायरस (Corona Virus) से प्रभावित होने की आशंका है। बार्सिलोना में विश्व का सबसे बड़ा एनुअल टेलीकॉम इंडस्ट्री इवेंट – मोबाइल वर्ल्ड

  • Posted on 04th Sep, 2021 07:24 AM
  • 1052 Views
Coronavirus का कोई असर MWC 2020 पर नहीं होगा : GSMA Image

बार्सिलोना में विश्व का सबसे बड़ा एनुअल टेलीकॉम इंडस्ट्री इवेंट – मोबाइल वर्ल्ड कांग्रेस 2020 (Mobile World Congress 2020) आयोजित होना है। MWC 2020 के दौरान स्पेन की राजधानी बार्सिलोना में एक लाख लोग विजिटर्स आते हैं। MWC 2020 बार्सिलोना में 24 से 27 फरवरी को आयोजित होना है। बार्सिलोना में आयोजित होने वाले इवेंट में चीन में फैले कोरोना वायरस (Corona Virus) से प्रभावित होने की आशंका है। बता दें कि कोरोनावायरस से अब तक चीन में 132 लोगों की मौत हो चुकी है। Also Read - Motorola Moto Z5 स्मार्टफोन 5000mAh बैटरी के साथ हो सकता है लॉन्च

MWC को आयोजित करने वाली कंपनी GSMA टेलीकॉम इंडस्ट्री ग्रुप का कहना है कि अपकमिंग मोबाइल वर्ल्ड कांग्रेस बार्सिलोना में तय कार्यक्रम के अनुसार ही संपन्न होगा। रायटर्स के मुताबिक GSMA का कहना है कि वह हालात पर नजर बनाए हुए हैं और कोरोनावायरस के प्रकोप के संभावित प्रभाव का आकलन कर रही है। इसके साथ ही GSMA का यह कहना है कि उसने इवेंट के स्थान पर वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन और सरकार की सेफ्टी रेकमेंडेशन के अनुरुप मेडिकल सपोर्ट की अतिरिक्त व्यवस्था की हुई है। Also Read - Fossil Hybrid HR स्मार्टवॉच भारत में 14,995 रुपये में लॉन्च, जानें स्पेसिफिकेशंस

Also Read - Xiaomi Mi 10 pro स्मार्टफोन 16GB रैम के साथ हो सकता है लॉन्च

MWC 2020 के आयोजकों का कहना है कि चीन से करीब 2500 लोग इस इवेंट का हिस्सा बन सकते हैं। चीन टेक्नोलॉजी के मामले में बड़ा और महत्वपूर्ण देशों में गिना जाता है ऐसे में MWC 2020 में चीन की उपस्थिति खास महत्व रखती है।

क्या है कोरोनावायरस

चीन में फैले कोरोनावयरस का पूरा नाम 2019 Novel Coronavirus (2019 नोवेल कोरोनावायरस) है। इस वायरस को 2019-nCoV नाम से भी जाना जाता है।कोरोनावयरस की पहली बार चीन के वुहान प्रांत में पहचान की गई। कोरोनावायरस इससे पहले कहीं नहीं पाया गया इस लिए इस वायरस के नाम के आगे नोवेल लगाया गया है।

कोरोनावायरस – कोरोना + वायरस से मिल कर बना है। कोरोना शब्द लैटिन का है। लैटिन में कोरोना का मतलब क्राउन होता है। कोरोना वायरस की तहत पर क्राउन जैसी संरचनाएं बनी होती है। इससे इसका नाम कोरोना पड़ा है।

Coronavirus का कोई असर MWC 2020 पर नहीं होगा : GSMA View Story

Latest 20 Post