Home / Articles / लॉकडाउन का पालन सही से नहीं हुआ तो कोरोनावायरस का एक मरीज 30 दिनों में 406 लोगों को कर सकता है संक्रमित : ICMR

लॉकडाउन का पालन सही से नहीं हुआ तो कोरोनावायरस का एक मरीज 30 दिनों में 406 लोगों को कर सकता है संक्रमित : ICMR

स्वास्थ्य मंत्रालय ने आईसीएमआर के रिसर्च के हवाले से बताया  है कि अगर लॉकडाउन और सामाजिक मेल जोल से दूरी बरतने के नियमों का पालन नहीं हुआ तो कोरोनावायरस का एक मरीज 30 दिनों में 406 लोगों को संक्रमित कर सकता है। कोरोनावायरस संक्रमण के चलते हालात गंभीर बने हुए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने आईसीएमआर के

  • Posted on 04th Sep, 2021 07:01 AM
  • 1276 Views
लॉकडाउन का पालन सही से नहीं हुआ तो कोरोनावायरस का एक मरीज 30 दिनों में 406 लोगों को कर सकता है संक्रमित : ICMR Image

कोरोनावायरस संक्रमण के चलते हालात गंभीर बने हुए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने आईसीएमआर के रिसर्च के हवाले से बताया  है कि अगर लॉकडाउन और सामाजिक मेल जोल से दूरी बरतने के नियमों का पालन नहीं हुआ तो कोरोनावायरस का एक मरीज 30 दिनों में 406 लोगों को संक्रमित कर सकता है। स्वास्थ्य मंत्रालय में संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि एहतियाती उपाए किए जाने पर संक्रमण की आशंका इसी अवधि में प्रति मरीज महज ढाई व्यक्ति रह जाएगी। Also Read - कोरोनावायरस के बावजूद इस यूनिवर्सिटी ने इनोवेशन तरीके से की ग्रेजुएशन सेरेमनी, देखें फोटो

अग्रवाल ने भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अध्ययन का हवाला देते हुए कहा कि मौजूदा ‘आरओ’ कोरोना वायरस के संक्रमण का औसत कहीं-कहीं 1.5 और चार के बीच है। बता दें कि आरओ गणितीय शब्दावली है । इससे पता चलता है कि महामारी का प्रसार किस तरह हो रहा है । इन आंकड़ों से पता चलता है कि एक संक्रमित व्यक्ति से औसतन कितने लोग संक्रमित होंगे । Also Read - कोरोनावायरस पर व्हाट्सएप एडमिन को जेल होने वाले वायरल मैसेज का जानें सच!

मौजूदा लॉकडाउन और सामाजिक मेल जोल से दूरी को रेखांकित करते हुए अग्रवाल ने कहा , ‘‘अगर लॉकडाउन लागू नहीं हो और सामाजिक दूरी बनाए रखने के नियमों का पालन नहीं हो तो आरओ 2.5 होने पर एक संक्रमित व्यक्ति 30 दिनों में 406 लोगों को संक्रमित कर सकता है। लेकिन, सामाजिक मेल जोल से दूरी बरतें तो एक बीमार व्यक्ति केवल 2.5 लोगों को ही संक्रमित कर पाएगा।’’ Also Read - कोरोनावायरस से संक्रमितों का इलाज कर रहे डॉक्टरों के लिए DRDO ने बनाया बायो सूट

उन्होंने लोगों से सामाजिक दूरी बरतने और लॉकडाउन के आदेश का पालन करने की अपील करते हुए कहा कि कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए यह बहुत महत्वपूर्ण है ।  स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक देश में कोरोना वायरस के संक्रमण के मामले बुधवार को बढ़कर 5194 हो गये जबकि इससे हुयी मौत का आंकड़ा 149 पर पहुंच गया है।

आईसीएमआर के वैज्ञानिक रमन आर गंगाखेडकर ने बताया कि देश में अब तक कोरोना संक्रमण की जांच के लिये 1,21,271 परीक्षण हो चुके हैं। इनमें पिछले 24 घंटों के दौरान किये गये 13,345 परीक्षण शामिल हैं। उन्होंने बताया कि देश में आईसीएमआर की प्रयोगशालायें बढ़कर 139 हो गयी हैं जबकि निजी क्षेत्र की 65 प्रयोगशालाओं को भी कोविड-19 के परीक्षण करने की मंजूरी दे दी गयी है।

(इनपुट – पीटीआई)

लॉकडाउन का पालन सही से नहीं हुआ तो कोरोनावायरस का एक मरीज 30 दिनों में 406 लोगों को कर सकता है संक्रमित : ICMR View Story

Latest 20 Post