Home / Articles / कोराना की वजह से आया ‘स्‍ट्रेस-ड‍िप्रेशन’ नहीं हो रहा खत्‍म तो सोशल मीडि‍या के ‘मीम्‍स’ देखें, क्‍या कहती है यह रिसर्च

कोराना की वजह से आया ‘स्‍ट्रेस-ड‍िप्रेशन’ नहीं हो रहा खत्‍म तो सोशल मीडि‍या के ‘मीम्‍स’ देखें, क्‍या कहती है यह रिसर्च

अब एक रिसर्च में सामने आया है कि अगर आप आपने कोरोना के साइड इफैक्‍ट से छुटकारा पाना चाहते हैं तो सोशल मीडि‍या में आने वाले मीम्‍स का सहारा ले सकते हैं, यह मीम्‍स आपके तनाव को कम करने में मदद कर सकते हैं। अमेरिका के 800 लोगों पर हुए एक अध्ययन में यह बात सामने आई है। id="ram"> Last Updated: मंगलवार, 19 अक्टूबर 2021 (15:10 IST) कोरोना महामारी ने कई तरह के मानसिक रोग पैदा

  • Posted on 19th Oct, 2021 10:41 AM
  • 1348 Views
कोराना की वजह से आया ‘स्‍ट्रेस-ड‍िप्रेशन’ नहीं हो रहा खत्‍म तो सोशल मीडि‍या के ‘मीम्‍स’ देखें, क्‍या कहती है यह रिसर्च   Image
Last Updated: मंगलवार, 19 अक्टूबर 2021 (15:10 IST)
कोरोना महामारी ने कई तरह के मानसिक रोग पैदा किए हैं। लोग ठीक तो हो गए लेकिन कोरोना उन्‍हें तनाव, ड‍िप्रेशन, भावुकता, अकेलापन और नकारत्‍मकता जैसी मानसिक बीमारियां दे गया। कोराना का यह असर लोगों पर अब तक बना हुआ है।


लेकिन अब एक रिसर्च में सामने आया है कि अगर आप आपने कोरोना के साइड इफैक्‍ट से छुटकारा पाना चाहते हैं तो सोशल मीडि‍या में आने वाले मीम्‍स का सहारा ले सकते हैं, यह मीम्‍स आपके तनाव को कम करने में मदद कर सकते हैं। अमेरिका के 800 लोगों पर हुए एक अध्ययन में यह बात सामने आई है।

पेन्सिलवेनिया स्टेट यूनिवर्सिटी ने इस बारे में रिसर्च की है। इस रिसर्च के शोधकर्ताओं का कहना है कि
सोशल मीडिया या इंटरनेट पर 3 मीम्स देखकर ही आपका तनाव दूर हो सकता है।

उनके मुताब‍ि‍क रिसर्च में शामिल जिन लोगों ने मीम्स देखे उन्होंने खुद को हल्का महसूस किया और खुश नजर आए।

दरअसल, कोविड ने मरीजों के दिमाग पर बुरा असर डाला है। इसकी वजह से लोगों में तनाव और बेचैनी का स्तर बढ़ा। रिसर्च के दौरान यह देखा गया कि जिन लोगों ने तस्वीरों के साथ कैप्शन वाले मीम्स देखे उनकी मेंटल हेल्थ में सुधार दिखा।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) सलाह देता है कि सोशल मीडिया पर कोविड से जुड़ी तस्वीरों को देखने से बचें। रिसर्च में सामने आया है कि अगर कोविड से जुड़े फनी मीम्स देखते हैं तो मरीज बेहतर महसूस करता है। ऐसा करने पर वो महामारी की स्थिति का सामना करने में समक्ष हो जाता है। यानी हम अब तक सोशल मीडि‍या को गलत ही मानते रहे, लेकिन यह इस मामले में फायदेमंद भी है।

कोरोना की वजह कोई डिप्रेशन और कोई स्ट्रेस में आया है। ऐसे में घर में अब खुशहाली का माहौल बनाए रखें। दोस्तों, और रिश्तेदारों से मिलते रहें। नकारात्मक विचार आए तो दोस्‍तों से शेयर करें। अकेले न रहें!

खुद को व्यस्त रखें, अपने पसंद के काम करते रहें। म्यूजिक सुनें, किताबें पढें। फ‍िल्‍म देखें। वॉक पर जाएं, एक्‍सरसाइज करें।

Latest Web Story

Latest 20 Post