यूपी में मदरसों के सर्वे पर सियासत, देवबंद में 250 मदरसा प्रतिनिधि तय करेंगे आगे की रणनीति

यूपी में मदरसों के सर्वे पर सियासत, देवबंद में 250 मदरसा प्रतिनिधि तय करेंगे आगे की रणनीति   Image
  • Posted on 22nd Sep, 2022 18:12 PM
  • 1238 Views

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में मदरसों के सर्वे पर जारी सियासत थमने का नाम ही नहीं ले रही है। आज दारुल उलूम ने आज देवबंद में इस मामले में मदरसों का सम्मेलन बुलाया है। इसमें 250 से अधिक मदरसा प्रतिनिधि शामिल होंगे। इसमें सर्वे को लेकर आगे की रणनीति तय की जाएगी। - convention of madrassas of UP in Darul Uloom id="ram"> पुनः संशोधित रविवार, 18 सितम्बर 2022 (09:23 IST) हमें फॉलो करें लखनऊ। उत्तर प्रदेश

पुनः संशोधित रविवार, 18 सितम्बर 2022 (09:23 IST)
हमें फॉलो करें
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में मदरसों के सर्वे पर जारी सियासत थमने का नाम ही नहीं ले रही है। आज ने आज में इस मामले में मदरसों का सम्मेलन बुलाया है। इसमें सर्वे को लेकर आगे की रणनीति तय की जाएगी।

मुफ्ती अबुल कासिम नोमानी ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा गैर मान्यता प्राप्त मदरसों के सर्वेक्षण पर 18 सितंबर को देवबंद के दारुल उलूम में यूपी के मदरसों का सम्मेलन होगा। पहले यह सम्मेलन 22 सितंबर को होना था। इसमें 250 से अधिक मदरसा प्रतिनिधि शामिल होंगे।

उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश सरकार 10 सितंबर से राज्य में संचालित मदरसों का सर्वे करा रही है। हालांकि मदरसों की नाराजगी के बाद भी प्रदेशभर में कही भी सर्वे टीम को विरोध का सामना नहीं करना पड़ा है।
इस बीच उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री दानिश आजाद अंसारी ने मदरसों की बेहतरी के लिए कराए जा रहे सर्वे के काम की तारीफ करते हुए कहा कि विपक्षी दल इस मुद्दे पर भ्रम फैलाकर लोगों को गुमराह कर रहे हैं।

आजाद ने कहा कि सर्वे के बाद मदरसे न तो बंद होंगे और न ही उन पर बुलडोजर चलाया जाएगा। मदरसे बंद करने और इन पर बुलडोजर चलाने की बात कहकर विपक्षी दल मुसलमानों को भ्रमित कर रहे हैं।

यूपी में मदरसों के सर्वे पर सियासत, देवबंद में 250 मदरसा प्रतिनिधि तय करेंगे आगे की रणनीति View Story

Latest Web Story

Latest 20 Post