Home / Articles / 'अग्निवीरों' के लिए आनंद महिंद्रा का ऐलान, महिंद्रा ग्रुप देगा नौकरी का ऑफर, लेकिन विरोध से दुखी हूं

'अग्निवीरों' के लिए आनंद महिंद्रा का ऐलान, महिंद्रा ग्रुप देगा नौकरी का ऑफर, लेकिन विरोध से दुखी हूं

ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने दुख जताया और इस योजना के तहत ट्रेनिंग पाने वाले नौजवानों को अपने यहां नौकरी देने की पेशकश की है। ये पेशकश ऐसे समय सामने आई है, जब अग्निपथ योजना के खिलाफ देशभर में विरोध प्रदर्शन के बीच सरकार और विभिन्न मंत्रालय तमाम रियायतों का ऐलान कर चुके हैं। - Anand Mahindra announced for Agniveers, Mahindra Group will offer job id="ram"> Last Updated: सोमवार, 20 जून 2022 (09:25 IST) हमें फॉलो करें नई दिल्ली, सेना में भर्ती की नई

  • Posted on 20th Jun, 2022 04:06 AM
  • 1094 Views
'अग्निवीरों' के लिए आनंद महिंद्रा का ऐलान, महिंद्रा ग्रुप देगा नौकरी का ऑफर, लेकिन विरोध से दुखी हूं   Image
Last Updated: सोमवार, 20 जून 2022 (09:25 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली, सेना में भर्ती की नई अग्निपथ योजना के विरोध के बीच आनंद महिंद्रा ने ऐलान किया है कि जो युवा अनुशासन और कौशल सीखेंगे, उनकी कंपनी उन्हें रोजगार के बेहतरीन मौके उपलब्ध कराएगी। उन्होंने कहा कि हालांकि मैं देशभर में हो रहे अग्निपथ के विरोध से दुखी हूं। महिंद्रा ने यह बात ट्वीट कर के कही है।

ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने दुख जताया और इस योजना के तहत ट्रेनिंग पाने वाले नौजवानों को अपने यहां नौकरी देने की पेशकश की है। ये पेशकश ऐसे समय सामने आई है, जब अग्निपथ योजना के खिलाफ देशभर में विरोध प्रदर्शन के बीच सरकार और विभिन्न मंत्रालय तमाम रियायतों का ऐलान कर चुके हैं। इसके बावजूद योजना के विरोध में सोमवार को भारत बंद का आह्वान किया गया है।

आनंद महिंद्रा ने सोमवार सुबह ट्वीट करके लिखा कि अग्निपथ योजना को लेकर जारी विरोध से दुखी हूं। बीते साल जब इस योजना का विचार सामने आया था, तब मैंने कहा था और अब मैं फिर दोहराता हूं कि इसके तहत अग्निवीर जो अनुशासन और कौशल सीखेंगे, वह उन्हें रोजगार के बेहतरीन मौके उपलब्ध कराएगा। उन्होंने कहा कि महिंद्रा ग्रुप ऐसे प्रशिक्षित, सक्षम युवाओं की भर्ती का स्वागत करता है। आनंद महिंद्रा के इस ऐलान का ट्विटर पर तमाम लोगों ने स्वागत किया।

बता दें कि थलसेना, वायुसेना और नौसेना में भर्ती की नई अग्निपथ योजना के तहत शुरू में चार साल के लिए युवाओं को रखा जाएगा। ट्रेनिंग के बाद उन्हें तैनाती मिलेगी। चार साल के बाद 25 फीसदी अग्निवीरों को सेना मे आगे रखा जाएगा। इस योजना का विरोध करने वाले तर्क दे रहे हैं कि इससे बेरोजगारी और बढ़ेगी और उनका करियर अनिश्चित हो जाएगा। हालांकि सरकार इससे साफ इनकार कर रही है।



Latest Web Story

Latest 20 Post