7 साल बाद टेस्ट कप्तानी को अलविदा कहा कोहली ने, धोनी को दिया धन्यवाद

7 साल बाद टेस्ट कप्तानी को अलविदा कहा कोहली ने, धोनी को दिया धन्यवाद   Image

दक्षिण अफ्रीका से 1-2 से टेस्ट सीरीज हारने के अगले दिन बाद विराट कोहली ने टेस्ट कप्तानी छोड़ने का निर्णय कर लिया है। उन्होंने यह जानकारी ट्वीट कर दी। id="ram"> Last Updated: शनिवार, 15 जनवरी 2022 (20:14 IST) दक्षिण अफ्रीका से 1-2 से टेस्ट सीरीज हारने के अगले

Last Updated: शनिवार, 15 जनवरी 2022 (20:14 IST)
दक्षिण अफ्रीका से 1-2 से सीरीज हारने के अगले दिन बाद विराट कोहली ने टेस्ट कप्तानी छोड़ने का निर्णय कर लिया है। उन्होंने यह जानकारी ट्वीट कर दी।कोहली को 2014 में टेस्ट कप्तान नियुक्त किया गया था, जब धोनी ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ श्रृंखला के बीच में इस पद को छोड़ दिया था।

विराट ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर जारी एक बयान में कहा,''पिछले सात वर्षों में रोजाना कड़ी मेहनत और अथक प्रयासों से टीम को सही दिशा में ले जाने का काम किया। इस सफर के दौरान कई उतार चढ़ाव रहे लेकिन आत्मविश्वास की कमी कभी नहीं रही। मेरा हमेशा यह विश्वास रहा है कि मैं जो भी करूं उसमें अपना 120 प्रतिशत दूं।''

अपने सोशल मीडिया पोस्ट में विराट ने लिखा "लेकिन हर अच्छे चीज़ का अंत आता है और टेस्ट क्रिकेट की कप्तानी से हटने का यही समय है। इस यात्रा में कई उतार-चढ़ाव आए, लेकिन हमने कभी भी विश्वास या प्रयत्न की कमी नहीं दिखाई। मैं हमेशा से अपना 120% देने में विश्वास करता हूं और अगर मैं ऐसा करने में सक्षम नहीं हूं, तो नहीं करता।"

उन्होंने इसके लिए बीसीसीआई, खिलाड़ियों, रवि शास्त्री और सपोर्ट स्टाफ़ को धन्यवाद दिया। इसके अलावा उन्होंने महेंद्र सिंह धोनी को धन्यवाद दिया, जिनके 2014-15 में ऑस्ट्रेलिया के बीच टेस्ट सीरीज़ में कप्तानी छोड़ने के बाद विराट

को टेस्ट कप्तानी मिली थी।

धोनी को दिया धन्यवाद

विराट ने अंत में महेंद्र सिंह धोनी को बड़ा धन्यवाद देते हुए कहा,''अंत में मैं एमएस धोनी का बड़ा शुक्रगुजार हूं जिन्होंने मुझमें एक कप्तान के तौर पर विश्वास किया और मुझे ऐसा व्यक्ति पाया जो भारतीय क्रिकेट को आगे ले जा सकता है।''

टेस्ट कप्तानी में यह रही खास उपलब्धियां

विराट ने पहली बार 2014 में टेस्ट क्रिकेट में भारतीय टीम का नेतृत्व किया था और उनका आखिरी टेस्ट दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ केप टाउन में अंतिम टेस्ट था जिसमें भारत को सात विकेट से हार का सामना करना पड़ा था। उनकी कप्तानी के सबसे बड़े क्षणों में ऑस्ट्रेलिया में लगातार दो दौरों में सीरीज जीतना, विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फ़ाइनल में पहुंचना और इंग्लैंड में सीरीज जीतना शामिल है।

इसके अलावा विराट कोहली सातवें स्थान से टीम को पहली रैंक तक भी लेकर गए। विराट कोहली जब कप्तानी छोड़ रहे हैं तब भी टीम इंडिया आईसीसी की पहली रैंक पर ही है।


गौरतलब है कि साल 2021 में टी-20 विश्वकप से पहले ही वह टी-20 मैचों की कप्तानी छोड़ने का फैसला ले चुके थे। इसके बाद साल के अंत में उन्होंने दक्षिण अफ्रीका दौरे की चयनकर्ताओं से हुई मीटिंग के दौरान बताया गया था कि वनडे में रोहित शर्मा को कप्तानी सौंपी जा रही है।

अब विराट कोहली ने खुद टेस्ट कप्तानी से हटने का मन बना लिया है। इसका मतलब यह है कि वह अब किसी भी फॉर्मेट में भारत के कप्तान नहीं रहेंगे।

About author
You should write because you love the shape of stories and sentences and the creation of different words on a page.